विस अध्यक्ष की सख्ती का दिखा असर, पहली बार MLA के सवालों का ऑनलाइन उत्तर ससमय उपलब्ध कराये गए, बिना स्थगित किये चली कार्यवाही

विस अध्यक्ष की सख्ती का दिखा असर, पहली बार MLA के सवालों का ऑनलाइन उत्तर ससमय उपलब्ध कराये गए, बिना स्थगित किये चली कार्यवाही

PATNA: बिहार विधानमंडल का बजट सत्र 19 फरवरी से शुरू हुआ है। पहले दिन राज्यपाल के अभिभाषण के बाद सदन की कार्यवाही स्थगित हो गई थी। बजट सत्र का वैसे तो आज दूसरा दिन था लेकिन कामकाज के लिहाज से पहला दिन। बिहार विधानसभा के लिए आज का दिन ऐतिहासिक दिन रहा। विधानसभा ने आज एक साथ दो रिकार्ड बनाए. अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा  के प्रयास से जहां बिना स्थगित किये सदन की कार्यवाही संचालित हुई वहीं अध्यक्ष की सख्ती का असर ऐसा दिखा कि विधायकों के सभी सवालों के जवाब पहली दफे ससमय ऑनलाइन उपलब्ध कराये गए। 

आज का दिन ऐतिहासिक,सभी विधायकों के प्रश्नों का उत्तर ऑनलाइन उपलब्ध

विधानसभा के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि विधायकों के सवालों का ऑनलाइन उत्तर उपलब्ध कराये गए. प्रश्नकर्ता विधायकों ने अपना जवाब ऑनलाइन माध्यम से पढ़ लिया और जवाब पढ़ने के बाद सदन में पूरक सवाल पूछे। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने सदन कई बार कहा कि प्रश्नकाल में पूछे जाने गए सभी सवालों के जवाब ससमय ऑनलाइन उपलब्ध माध्यम से उपलब्ध करा दिये गए हैं। जो विधायक नहीं पढ़े हैं वो आगे से पढ़ लेंगे। ऑनलाइन माध्यम से सवालों के जवाब उपलब्ध होने से समय की भी बचत हुई। जवाब पढ़कर विधायकों ने पूरक सवाल पूछे इससे समय की भी बचत हुई और अधिक सवालों को लिया जा सका। सोमवार को प्रश्नकाल में कुल 82 सवालों के जवाब ऑनलाइन माध्यम से उपलब्ध कराया गया।

अध्यक्ष की सख्ती का दिखा असर

बता दें विधानसभा का बजट सत्र शुरू होने से पहले ही विस अध्यक्ष विजय सिन्हा सरकार के वरीय अधिकारियों के साथ बैठक की थी। विधानसभा मीटिंग हॉल में आयोजित बैठक में अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने साफ-साफ कह दिया था कि विधायकों के सवालों के जवाब ससमय उपलब्ध कराये जायें। अगर विभाग की तरफ से लापरवाही बरती जायेगी तो सख्त कार्रवाई होगी। अध्यक्ष की सख्ती का ऐसा असर हुआ कि सभी विभागों ने समय से पहले ही जवाब उपलब्ध करा दिये। 

बिना स्थगित किये सदन की चली कार्यवाही

बिहार विधानसभा के बजट सत्र में आज एक और रिकार्ड बना। सदन आज बिना किसी रूकावट के संचालित हुई। सरकार की तरफ से बजट पेश किया गया लेकिन बिना स्थगित किये और विपक्षी सदस्यों के बिना वाकआउट किये विधानसभा की कार्यवाही सुचारू रूप से संचालित हुई। अमूमन यह देखा जाता था कि सदन की कार्यवाही हंगामे की वजह से प्रायः स्थगित करनी पड़ती थी। लेकिन आज वैसा कुछ भी नहीं हुआ और सदन की कार्यवाही सुचारू रूप से चली। हालांकि भाकपा माले के विधायक नारेबाजी करते रहे फिर भी सदन के कामकाज पर कोई असर नहीं पड़ा।इस तरह से आज का दिन विस के इतिहास के लिए काफी अच्छा रहा।






Find Us on Facebook

Trending News