बेटे की हत्या में गवाही देने वाले पिता को बदमाशों ने मारी गोली, लगातार मिल रही थी धमकी

बेटे की हत्या में गवाही देने वाले पिता को बदमाशों ने मारी गोली, लगातार मिल रही थी धमकी

डेस्क... बिहार के लखीसराय में बदमाशों के भीतर वर्दी का खौफ लगभग खत्म हो गया है। एक के बाद एक लगातार घटनाओं को अंजाम देकर आसानी से निकल जाते हैं। ताजा मामला लखीसराय थाना क्षेत्र से है, जहां बेटे की हत्या में गवाह वृद्ध पिता को गोली मार दी। घटना कबैया थाना क्षेत्र के बायपास ओवर ब्रिज के पास एक चाय दुकान के नजदीक घटी है। आरोप है कि गवाही न देने को लेकर दूसरे पक्ष के लोग थाना क्षेत्र के ही वार्ड नंबर 17 गांधी टोला निवासी उमेश मंडल पर लगातार दबाव बना रहे थे और इसी बात को लेकर रविवार की सुबह उनकी हत्या की नियत से बदमाशों ने गोली चलाई है।

बताया जा रहा है कि उमेश मंडल रविवार की सुबह चाय दुकान पर चाय पी रहे थे। इसी बीच बाइक सवार अपराधियों ने उन पर गोली चलाई। शोर मचाने पर स्थानीय लोगों ने बदमाशों को खदेड़ दिया।  बदमाश एक बाइक को छोड़ वहां से भाग निकले। उमेश मंडल के अनुसार रविवार की सुबह घटना को अंजाम देने वालों में विकास वर्मा, दीपक वर्मा, मकेश्वर वर्मा, अर्जुन वर्मा, मंटू वर्मा सहित कुछ अज्ञात लोग शामिल हैं। स्थानीय लोग यदि नहीं खदेड़ते तो आज उनकी हत्या कर दी जाती। इधर स्थानीय लोगों की मदद से वृद्ध को घायल अवस्था में सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किया गया है।  चिकित्सकों के अनुसार वह खतरे से बाहर हैं।


उमेश मंडल ने बताया कि पिछली गवाही के दौरान भी विपक्षियों ने उनके पक्ष में गवाही देने का दबाव बनाया था। धमकी भी दी कि यदि उनके पक्ष में गवाही नहीं दी जाएगी तो जान से मार देंगे। उन्होंने एसपी को लिखित आवेदन देकर इसकी जानकारी दी थी। बावजूद किसी तरह की कार्रवाई ना होने से बदमाशों का मनोबल लगातार बढ़ता जा रहा है।
 
दो साल पूर्व बेटे की हत्या 
उमेश मंडल के पुत्र रंजीत मंडल की हत्या वर्ष 2018 में 20 जून को कर दी गई थी। रंजीत मंडल के साला ने दूसरे पक्ष की एक लड़की से प्रेम विवाह कर लिया था। इसके बाद दूसरे पक्ष के लोग लगातार रंजीत के साले की तलाश कर रहे थे। साला के नहीं मिलने पर बदमाशों ने रंजीत मंडल की ही तीन गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसी मामले में उनके पिता उमेश मंडल गवाह हैं।

गोली लगने की पुष्टि अभी नहीं 
एसडीपीओ रंजन कुमार ने बताया कि फिलहाल वृद्ध को गोली लगने की पुष्टि चिकित्सकों ने नहीं की है। इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई शुरू कर दी है। एक बाइक को भी बरामद किया गया है। जल्द ही मामले की जांच कर दोषियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।


Find Us on Facebook

Trending News