बिहार में बाढ़ का कहर : सरकार पर बरसीं राबड़ी, हर साल करोड़ों खर्च, फिर जनता कर रही त्राहिमाम

बिहार में बाढ़ का कहर : सरकार पर बरसीं राबड़ी, हर साल करोड़ों खर्च, फिर जनता कर रही त्राहिमाम

PATNA : उत्तर बिहार के कई जिले बाढ़ की चपेट में आ गए है। पिछले कई दिनों से लगातार बारिश की वजह से बिहार के कई नदियों के जलस्तर में बेतहासा वृद्धि हुई है। वहीं नेपाल द्वारा पानी छोड़े जाने के बाद उत्तर बिहार के मधुबनी, सीतामढ़ी समेत कई जिले बाढ़ की चपेट में आ गये है। 

इधर इस बाढ़ को लेकर अब बिहार में सियासत शुरु हो गई है। विपक्ष ने बाढ़ को लेकर नीतीश सरकार पर जोरदार हमला बोला है। 

बिहार विधान परिषद् में नेता प्रतिपक्ष व पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने ट्वीट के जरिए बाढ़ को लेकर नीतीश सरकार पर हमला बोली है। राबड़ी देवी ने एक के बाद एक दो ट्वीट कीं हैं। 

राबड़ी ने अपने पहले ट्वीट में लिखा है  बिहार की अधिकतर नदियां खतरे के निशान को पार कर गयी हैं लेकिन सरकार राहत और बचाव की जगह प्रकृति और चूहों को दोष देने की कार्य योजना पर काम कर रही है।

जनता की इन्हें कोई फ़िक्र नहीं है। हर परिस्थिति में इन्हें बाढ़ के नाम पर बंदरबाँट करनी है। जनता त्राहिमाम कर रही है।

वहीं उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहीं है कि नीतीश सरकार ने 14 वर्षों के शासन के बाद भी बाढ़ की वार्षिक विभीषिका से सदा के लिए निपटान हेतु क्या दूरगामी क़दम उठाए?

अबतक कितने लाख करोड़ ख़र्च किए? जितना धन हर वर्ष राहत,बचाव,पुनर्वास व तटबंध निर्माण रखरखाव के नाम पर लूट लिए जाते हैं उतने में सदा के लिए समस्या का हल हो जाता।

Find Us on Facebook

Trending News