पूर्व सांसद की पत्नी का नहीं हुआ अंतिम संस्कार, बेटों की पैरोल पर रिहाई की मांग को लेकर अड़े परिजन

पूर्व सांसद की पत्नी का नहीं हुआ अंतिम संस्कार, बेटों की पैरोल पर रिहाई की मांग को लेकर अड़े परिजन

खगड़िया. पूर्व सांसद दिवंगत रामशरण यादव की धर्म पत्नी के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार अब नहीं हो सका है। इसका कारण बताया जा रहा है कि उनके चार बेटे जेल में सजा काट रहे हैं और पैरोल पर रिहा करने की मांग को जिला प्रशासन ने ठुकरा दिया है।


प्रशासन का कहना है कि विधि व्यवस्था प्रभावित होने की आशंका के मद्देनजर मांग को ठुकराया गया है। केवल एक बेटा पांडव यादव को पैरोल पर रिहा किया गया है। जबकि तीन बेटे जेल में बंद है। उसे रिहा करने को लेकर विरोध प्रदर्शन भी किया जा रहा है।

मानसी थाना परिसर में पुलिस प्रशासन के खिलाफ परिजनों ने जमकर प्रदर्शन किया है। परिजनों ने कहा कि जब तक अन्य तीन बेटों को रिहा नहीं किया जाएगा, तब तक पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा।

बता दें कि शनिवार को पूर्व सांसद की पत्नी का निधन हो गया था।‌ एक महिला हत्याकांड में पूर्व सांसद के चार बेटा भागलपुर जेल में सजा काट रहे हैं। वहीं रिहाई की मांग को लेकर परिजन अंतिम संस्कार नहीं करने पर अड़े हुए हैं।

Find Us on Facebook

Trending News