बदला और पैसों के लिए हुई थी मुखिया पति की हत्या, पेशेवर हत्यारों ने दिया था घटना को अंजाम

बदला और पैसों के लिए हुई थी  मुखिया पति की हत्या, पेशेवर हत्यारों ने दिया था घटना को अंजाम

PATNA : राजधानी पटना में पिछले दिनो अटल पथ के पास हुए मुखिया पति की हत्या के मामले में पटना पुलिस ने बड़ा खुलासा कर दिया है। हत्याकांड को लेकर पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने बताया कि हत्या की इस घटना में पैसों की अदावत थी, जिसमें हत्या के लिए लाईनर सहित कुल 11 अपराधियों में कुख्यात  रघुनाथ सिंह गिरोह के  4 पेशेवर सुपारी किलरों को गिरफ्तार किया गया है।

पटना एसएसपी ने बताया है कि मुखिया पति की हत्या करने के बाद अपराधी इकट्ठा होकर बेगूसराय जिले में छिप कर रह रहा  था इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस और साक्ष्यों के आधार पर पटना पुलिस की टीम ने बेगूसराय जिले में चार कुख्यात पेशेवर सुपारी किलरों को गिरफ्तार किया है।

पैसों की अदावत को लेकर हुई हत्या

एसएसपी ने बताया कि पंडारक के भोला सिंह एवं मुकेश सिंह की किसी जमीन के डेढ़ करोड़ रुपए की एग्रीमेंट हुआ था। यह पैसा मृतक द्वारा दिया जाना था। लेकिन उन्होंने नहीं दिया। वहीं मृतक लाल जी सिंह पर 2020 में हरनौत में फट्टू सिंह की हत्या के मामला भी था, जिसमें वह जेल भी गया था। जिसमें फट्टू सिंह के भाई बल्लू सिंह और महिपाल सिंह भी लाल जी सिंह से बदला लेना चाहते थे। उन्होंने पहले मुकेश सिंह से संपर्क किया और पूरी घटना को लेकर प्लानिंग तैयार की गई।

मुकेश सिंह ने हायर किए हत्यारे

पटना एसएसपी ने बताया कि इस हत्या के लिए मुकेश सिंह ने पेशेवर हत्यारों से संपर्क किया। इन हत्यारों में रघुनाथ सिंह सबसे खतरनाक था। उस पर पहले से ही कई मामले हैं।  हालांकि इस मामले में अभी भी 3 लाइनर सहित भोला सिंह और मुकेश सिंह को गिरफ्तार करने की कवायद में पुलिस जुटी है।

19 अक्टूबर को हुई थी हत्या

बता दें कि राजधानी पटना के पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र स्थित अटल पथ पर पानी टंकी के पास बुधवार की सुबह पूर्व मुखिया की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. पूर्व मुखिया की पहचान नालंदा के हरनौत थाना क्षेत्र की नेहुसा पंचायत निवासी धीरज कुमार उर्फ लालजी के रूप में हुई थी। हत्या की इस घटना के बाद से ही पुलिस हत्यारों की तलाश में जुटी थी।

Find Us on Facebook

Trending News