आशियाना ही बना मौत का ठिकाना, रात में लगी भीषण आग और जिंदा जलकर मर गए घर में सोए 7 लोग, 8 झुलसे

आशियाना ही बना मौत का ठिकाना, रात में लगी भीषण आग और जिंदा जलकर मर गए घर में सोए 7 लोग, 8 झुलसे

DESK. जिस आशियाना में पूरे परिवार के साथ सुकून की नींद ली जा रही थी वही घर पूरे परिवार की मौत ठिकाना बन गया. इंदौर में शुक्रवार देर रत एक दो मंजिला इमारत में आग लगने से 7 लोगों की जलने और दम घुटने से मौत हो गई जबकि 8 लोगों के झुलसने की खबर है. 

मृतकों में 6 महिलाएं और एक पुरुष हैं. स्थानीय लोगों के अनुसार मकान से बाहर निकलने के रास्ते भी आग की चपेट में आ गए जिस कारण लोगों को बाहर निकलने का कोई रास्ता नहीं बचा. कुछ देर में ही चीख पुकार मचने लगी और 7 की जलने एवं दम घुटने से मौत हो गई. वहीं कुछ लोगों ने बालकोनी और खिड़की से कूदकर जान बचाने की कोशिश की जिससे वे बुरी तरह घायल हो गए. 

मृतकों की पहचान ईश्वर सिंह सिसौदिया (45), नीतू सिसौदिया (45), आशीष (30), गौरव (38), आकांक्षा (25) के रूप में हुई है. वहीं 40 से 45 वर्ष के दो अन्य लोगों की पहचान नहीं हो पाई है. जिस इमारत में आग लगी उसमें करीब 15 से 17 लोग रहते थे. आग किन कारणों से लगा इसका पता नहीं चल पाया. हादसे का शिकार बने लोग किराए के मकान में अलग अलग फ्लैट में रहते थे. चूकी देर रात आग लगी इस कारण ज्यादातर लोग सोए हुए थे और जब तक उन्हें आग लगने का अहसास हुआ तब तक बड़ा हादसा हो चुका था. 

घटना पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुःख जताया. उन्होंने मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपए की सहायता देने की घोषणा की है. पुलिस हादसे के कारणों का पता लगा रही है.



Find Us on Facebook

Trending News