पत्नी को भेजने के लिए ससुरालवालों ने माँगा दस लाख रूपये, किडनी बेचने के लिए बैनर लेकर घूम रहा युवक

पत्नी को भेजने के लिए ससुरालवालों ने माँगा दस लाख रूपये, किडनी बेचने के लिए बैनर लेकर घूम रहा युवक

NALANDA : अब तक आप इश्क में पागल प्रेमी को प्रेमिका से मिलाने की बात कहते या तड़पते सुना होगा। लेकिन नालंदा का एक युवक इंसाफ के लिए हाथों में बैनर लेकर सड़को पर घूम रहा है। दरअसल यह युवक नालंदा जिले के हरनौत बाजार निवासी स्व रामसुहावन सिंह का 35 वर्षीय पुत्र संजीव कुमार है, जिसका आरोप है कि 18 अप्रैल 2016 को उसकी शादी पटना जिला के मैनपूरा निवासी प्रमोद सिंह की पुत्री प्रियंका पटेल से हुई थी। 

लेकिन दो साल पूर्व से न तो वह मायके से ससुराल आ रही है न ही ससुराल के परिवार उससे मिलने दे रहे हैं। कई बार मान मनौव्वल  के बाद भी उन लोगों का दिल नहीं पसीजा तो वह पत्नी को बंधक बनाए जाने की शिकायत को लेकर पाटलिपुत्रा थाना में लिखित शिकायत किया। शिकायत किए जाने के बाद दोनों पक्षों को समझौता के लिए बुलाया गया। जहां सास और ससुर ने पत्नी को भेजने के बदले 10 लाख रुपए की मांग किया। नहीं तो तलाक दिलवाकर दूसरी जगह शादी की बात पर समझौता पर हुआ। लेकिन युवक ने रुपए देने में असमर्थता जाहिर  किया। इसके बाद भी वह इंसाफ की गुहार के लिए उसने कई बार थाने का चक्कर लगाया, लेकिन उसे इंसाफ नहीं मिला। 

इंसाफ नहीं मिलता देख उसने तीज पर्व के मौके पर एक बैनर बनवा कर सास,ससुर, पत्नी और साला की तस्वीर पर ससुराली परिवार से प्रताड़ित होने के कारण किडनी बेचना चाहता हूं लिखवा कर हाथों में लेकर सड़को पर घूम रहा है। करीब 10 दिनों तक पटना के आला अधिकारियों के पास घूमने के बाद आज वह बिहारशरीफ आया। इसके बाद उसका कहना है कि वह दिल्ली प्रधानमंत्री कार्यालय के पास भी जाकर शिकायत करेगा। अगर उसके बाद भी उसे इंसाफ नहीं मिला तो अपनी किडनी बेच कर 10 लाख रुपए देने के बाद ससुराल के गेट के समीप आत्मादाह कर लेगा। मामला चाहे जो भी हो युवक सड़कों पर बैनर लेकर घूम रहा है जिसे लोग देखकर हैरान हो जाते हैं। 

नालंदा से राज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News