पटना का कोतवाली थाना सिलिंडर के धमाकों से ध्वस्त हो जाता, शुक्र है आग वहां तक नहीं पहुंची

पटना का कोतवाली थाना सिलिंडर के धमाकों से ध्वस्त हो जाता, शुक्र है आग वहां तक नहीं पहुंची

PATNA : पटना के कोतवाली थाने में कुछ जवान सो रहे थे तो कुछ अपनी ड्यूटी पर जाने की तैयारी कर रहे थे। कुछ फ्रेश होने के लिये बाथरूम गए हुए थे। इसी बीच पहले तल्ले पर स्थित कोने वाले कमरे में आग लग गयी। देखते देखते आग अपने उफान पर आ गया। 

वाशरूम से निकले सिपाही सुखदेव की नजर जैसे ही कोने वाले कमरों से उठ रहे धुएं और आग की लपटों पर पड़ी तो दौड़कर सो रहे जवानों को उठाया। सभी बाहर भागे। वायरलेस पर आग की सूचना फ्लैश की गई। फायर ब्रिगेड की गाड़ियां सात बजे तक पहुंच चुकी थी। तब तक कई महत्वपूर्ण दस्तावेज खाक हो चुके थे।

लेकिन दूसरी तरफ जवानों को भय सता रहा था कि आग पहले तल्ले पर रखे जब्त गैस सिलेंडर तक न पहुंच जाए। ऊपरी तल्ले के एक कमरे जब्त किये सात भरे हुए गैस सिलेंडर रखा हुआ था। शुक्र है आग वहां तक नहीं पहुंची। अगर आग सिलेंडर तक पहुंचता तो अनुमान लगाइए कोतवाली का क्या होता। विस्फोट से कोतवाली का नक्शा तक बदल जाता। लेकिन भगवान का शुक्र है ऐसा हुआ नहीं। 

बताया जा रहा है कि आग शार्ट सर्किट की वजह से लगी और देखते देखते विकराल हो गया।

Find Us on Facebook

Trending News