हजयात्रियों का अंतिम जत्था पहुंचा गया, रजाकारों के चेहरे पर ख़ुशी की लहर

हजयात्रियों का अंतिम जत्था पहुंचा गया, रजाकारों के चेहरे पर ख़ुशी की लहर

GAYA : गया हवाई अड्डे पर हजयात्रियों के अंतिम जत्थे की सेवा में लगे वोलेंटियर ने कहा कि हजयात्रियों की सेवा का पवित्र भाव हमें यहां खींच लाता है. उन्होंने कहा की इस एक महीने के लिए हमें ग्यारह महीने तक का इंतजार रहता है और इस से पूरे वर्ष ऊर्जा प्रदान होता है.

इस बार हज यात्रा पूरी करने के बाद अंतिम तीर्थयात्रियों की वापसी गुरुवार को पूरी हो गई. इस वजह से हवाई अड्डे पर लगभग एक महीने से तीर्थयात्रियों की सेवा करने वाले रजाकार (वोलेंटियर) के चेहरों पर खुशी देखी जा रही थी. कुछ निराशा भी देखी गई. राज्य  हज कमेटी के अध्यक्ष इल्यास हुसैन और डीएम अभिषेक कुमार सिंह इस बात से प्रसन्न हैं कि तीर्थयात्रियों की उड़ान और वापसी की जिम्मेदारी अच्छी तरह से पूरी हो गई है. सभी स्वयंसेवकों, जिनमें सरकारी कर्मी और एयरपोर्ट कर्मी भी शामिल हैं. उन सभी के द्वारा बेहतर कार्य किए गए हैं. इस खुशी में हवाई अड्डे पर हज समिति गया कि ओर से गेट टूगेदर का आयोजन किया गया. इसके तहत रात्रि खाने की दावत भी हुई. मगध जोन के कमिश्नर पंकज कुमार पाल, डीएम अभिषेक कुमार सिंह, चेयरमैन इलियास हुसैन सहित जिले और हज भवन के उच्च अधिकारियों ने भाग लिया और रज़ाकारों के साथ दावत का आनंद लिया. साथ ही अगले वर्ष ईमानदारी के साथ तीर्थयात्रियों की सेवा करने का आश्वासन दिया. रजाकार महबूब खान कहते हैं कि यहां का दृश्य अच्छा होता है. बच्चे, बूढ़े और जवान सभी तीर्थयात्रियों की सेवा में निस्वार्थ लगे रहते  हैं. मोहम्मद मोबशशिर कहते हैं कि तीर्थयात्रियों की सेवा करना उन्हें मज़ा आता है. तीर्थयात्रियों के ज़रिए सफलता और स्वास्थ्य की दुआ मिलती है. अगले साल फिर से सेवा करने का मौका मिलने की उम्मीद है.

तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए पुलिस नियंत्रण कक्ष में रहीं सब-इंस्पेक्टर, मीरा कुमारी का कहना है कि तीर्थयात्रियों की सेवा करना उनका सौभाग्य है. तीर्थयात्रियों के सेवा से उनके दिल को शांति मिली है. अगर आगे भी तीर्थयात्रियों की सेवा करने का मौका मिला तो वो करेंगी. 

नियंत्रण कक्ष समेत सभी शिविरों में तैनात सरकारी कर्मचारियों ने तीर्थयात्रियों की खिदमत पर खुशी ज़ाहिर की. सभी ने कहा कि अगर अगले वर्ष भी मौका मिला तो इसी तरह सेवा करेंगे.

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News