हथेलियों में छिपा है स्वस्थ रहने का मंत्र, एक्यूप्रेशर से कारगर इलाज का अनिल कुमार ने सिखाया गुर

हथेलियों में छिपा है स्वस्थ रहने का मंत्र, एक्यूप्रेशर से कारगर इलाज का अनिल कुमार ने सिखाया गुर

पटना. भाग दौड़ की जिंदगी में स्वास्थ के प्रति जागरूक रहना हर व्यक्ति का कर्तव्य है। स्वस्थ रहने का मंत्र मानव के हथेलियों में ही मौजूद है, उसे सक्रिय कर व्यक्ति स्वयं को सहज ही ठीक कर सकता है। एक्यूप्रेशर के माध्यम से कोई भी व्यक्ति स्वस्थ रह सकता है। उक्त बातें "नेशनल एक्यूप्रेशर एसोसिएशन" सह "नेशनल इंस्टिच्यूट ऑफ अल्टरनेटिव मेडिसीन एंड रिसर्च सेन्टर द्वारा आयोजित आँठवें राष्ट्रीय सम्मेलन के  उद्घाटन भाषण के दौरान जनतांत्रिक विकास पार्टी के राष्ट्रीय अनिल कुमार ने कही। 

उन्होंने कहा कि स्वास्थ हमारी पूंजी है. इसके प्रति सचेत रहना हमारा कर्तव्य है। सम्मेलन का उद्घाटन अनिल कुमार द्वारा किया गया। इस अवसर पर “नेशनल इक्यूप्रेशर एसोसिएशन के अध्यक्ष विकास कुमार सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत किया एवं उनके प्रति आभार व्यक्त किया। साथ ही दूर-दराज से सम्मेलन में आए लोगों को यह विश्वास दिलाया की अगर लोगों में एक्यूप्रेशर के प्रति जागरूकता हो तो किसी भी बीमारी का इलाज एक्युप्रेशर द्वारा किया जा सकता है।

संस्था सचिव प्रिया प्रियदर्शनी द्वारा सभी को स्माइल मेडिटेशन के लाभ एवं प्रक्रिया से अवगत कराया गया। उन्होंने बताया कि जीवन में उत्पन्न कठिनाइयों एवं बिमारियों को सहजतापूर्वक एक्युप्रेशर एवं स्माइल मेडिटेशन द्वारा ठीक किया जा सकता है। इस सम्मेलन में बिहार तथा बिहार के आस-पास के लगभग 500 एक्युप्रेशर चिकित्सक एवं नेशनल इंस्टिच्यूट के छात्र-छात्राऐं मौजूद थे, जिनमें प्रमुख रूप से सुनील कुमार, अरूण कुमार, किरण कुमारी, रेखा कुमारी, रूबी कुमारी, मंतोष कुमार, निखिल कुमार, सुजाता सिंह, धनेश चंद्र धौर्य ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।


Find Us on Facebook

Trending News