पहली पत्नी के रहते धोखे से किया विवाह, अब सारे कागजात और ज्वेलरी लेकर हुआ फरार, थाने का चक्कर लगा रही है पीड़िता

पहली पत्नी के रहते धोखे से किया विवाह, अब सारे कागजात और ज्वेलरी लेकर हुआ फरार, थाने का चक्कर लगा रही है पीड़िता

PATNA : राजधानी पटना में पहली पत्नी के रहते धोखाधड़ी से दूसरी शादी करने और फिर सारा माल लेकर चंपत होने का मामला प्रकाश में आया है। दिल्ली की रहने वाली महिला के साथ एक युवक शादीशुदा होते हुए धोखे से उसके साथ शादी की फिर उसकी गैरमौजूदगी में उसके सभी कागजात ज्वेलरी सहित कुछ रकम लेकर फरार हो गया। साथ ही पीड़िता द्वारा लगाए गए ताले को भी तोड़ कर अपना ताला लगा दिया गया है। 

दरअसल मामला का है तथा पटना के रूपसपुर थाना इलाके की विजयनगर निवासी महिला ने रूपसपुर थाने एवं महिला थाने में चक्कर लगाकर अपनी फरियाद को सुनाने की प्रयास कर रही है। किंतु उसकी किसी ने नहीं सुनी और उल्टे उसे उसी हालत में पुलिस वाले भी छोड़ दिए। बशर्ते उसकी दर्द को पटना पुलिस समझती। 

बताया जा रहा है कि दिल्ली की रहने वाली पीड़िता ने पटना निवासी मर्चेंट नेवी में अधिकारी के पद पर कार्यरत रजनीश मिश्रा से मैरिज वेबसाइट के माध्यम से मिलकर दूसरी शादी की थी। अगस्त माह के 26 तारीख 2018 को पीड़िता और रजनीश मिश्रा की शादी हुई थी ।लेकिन महज चंद दिनों के ही बाद रजनीश का अलग कहानी शुरू हुआ। 

पीड़िता की मानें तो रजनीश उसे उसकी पहली पत्नी को तलाक देकर शादी करने का प्रस्ताव दिया था, जिसके बाद पीड़िता राजी हो गई और दोनों की शादी हो गई। कुछ ही दिनों बाद जब पीड़िता को मालूम हुआ कि रजनीश की पहली पत्नी के साथ तलाक नहीं हुआ है। इस बात के बारे में जब पीड़िता ने रजनीश से पूछा तो मारपीट करते हुए उसे छोड़ कर घर से निकल गया। वहीं कुछ ही दिनों बाद रजनीश उस पीड़िता के फ्लैट में आकर उसके गैरमौजूदगी में उसके ज्वेलरी पैसे एवं सभी कागजात को लेकर चला गया। 

पीड़िता ने बताया कि जब वह अपने फ्लैट पहुंची तो फ्लैट का नक्शा देखकर दंग रह गई। अपार्टमेंट के गार्ड से पूछी जिसके बाद गार्ड भी विरोधाभास प्रकट करते हुए कहा कि आपके पति आए हैं और सब सामान लेकर गए। 

फिलहाल पीड़िता रूपसपुर थाने को इस मामले से अवगत कराई लेकिन रूपसपुर थाने की ओर से किसी भी तरह का मदद देखने को नहीं मिला ।इस बाबत पटना के वरीय अधिकारियों से मिली जिसके बाद महिला थाना जाने को बोला गया महिला थाने में भी उसको न्याय नहीं मिला पाया है और आज वह पीड़िता अकेली पटना की सड़कों पर दर-दर की ठोकरे खा रही है। साथ ही न्याय की इंतजार में खड़ी है। अब देखना यह होगा कि पटना पुलिस के आलाधिकारियों की  उस पीड़िता को न्याय दिलाने की नींद कब खुलती है।

कुंदन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News