गया में रसोईया संघ की हुई बैठक, मध्यान भोजन योजना को एनजीओ के हवाले करने का किया विरोध

गया में रसोईया संघ की हुई बैठक, मध्यान भोजन योजना को एनजीओ के हवाले करने का किया विरोध

GAYA : बिहार राज्य विद्यालय रसोईया संघ एक्टू जिला शाखा गया की जिला कमेटी की बैठक संघ के अध्यक्ष विभा भारती की अध्यक्षता मैं महासंघ कार्यालय कचहरी गया में हुई. जिस का संचालन संघ के जिला सचिव रीता बरनवाल ने किया. इस मौके पर जिला कोषाध्यक्ष रामचंद्र प्रसाद भी उपस्थित थे. जिला के प्रखंडों से रसोईया सरोज, प्रतिमा, मानो, रानी, मीना, चंपा, अनीता आदि ने भाग लिया। बैठक में समय पर वेतन रसोईया को नहीं मिलने तथा बकाया वेतन का भुगतान करने के सवाल पर चर्चा हुआ. बैठक में निर्णय लिया गया कि 24 सितंबर को राष्ट्रव्यापी हड़ताल में जिले के सभी रसोइया भाग लेगी. उसी दिन जिला स्तरीय मांग की पूर्ति हेतु जिला स्तर पर प्रदर्शन कर मध्यान्ह भोजन योजना कार्यालय को मांग संबंधी पत्र सौंपा जाएगा.

बैठक में मध्यान भोजन योजना को एनजीओ के हवाले कर रसोईया को बेरोजगार करने की सरकार की नीति का पुरजोर विरोध किया गया तथा सरकार से मांग की गई की मध्यान भोजन योजना की शुरुआत विद्यालय में की जाए. 

बैठक में 13 सूत्री मांगे यथा मध्यान भोजन योजना को एनजीओ के हवाले करने पर रोक लगाई जाए. रसोईया को सरकारी कर्मचारी का दर्जा दिया जाए. जब तक सरकारी नहीं होता मानदेय ₹21000 किया जाए. विद्यालय का मर्जर बंद किया जाए.10 माह के बजाय 12 माह का मानदेय का भुगतान किया जाए. श्रम कोटो को खारिज किया जाए. विद्यालयों में अविलम्ब मध्यान भोजन योजना शुरू किया जाए ताकि बच्चों को ताजा खाना मुहैया का कराया जा सके. रसोईया को मानदेय का नियमित भुगतान किया जाए. 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News