मुजफ्फरपुर में होमी भाभा कैंसर अस्पताल का चमत्कारी कारनामा, एक व्यक्ति के पैर की सर्जरी कर निकाला गया 3.8 kg का ट्यूमर

मुजफ्फरपुर में होमी भाभा कैंसर अस्पताल का चमत्कारी कारनामा, एक व्यक्ति के पैर की सर्जरी कर निकाला गया 3.8 kg का ट्यूमर

मुजफ्फरपुर. होमी भाभा कैंसर अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र, मुजफ्फरपुर में एक व्यक्ति के पैर से 3.8 किलो का बड़ा ट्यूमर निकाला गया।  टाटा स्मारक केंद्र की इकाई होमी भाभा कैंसर अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र मुजफ्फरपुर में शुक्रवार को एक बड़ी सर्जरी की गई, जिसमें मरीज (55 साल) के बाएं पैर से 3.8 किलो (25×14×13 cm) का बड़ा ट्यूमर निकाला गया।

बताया जा रहा है कि मरीज एक फैक्ट्री मजदूर है जो 6 महीने से इलाज के लिए भटक रहा था, उसका इलाज आयुष्मान कार्ड के तहत किया गया। उन्होंने बताया कि उसे मिक्जो फाइब्रो सारकोमा नामक कैंसर था, जो कैंसर पीड़ितों में बहुत कम पाया जाता है। उनके अनुसार यह बीमारी 100000 में 1 लोग में ही यह बीमारी पाई जाती है। उनके लिए सबसे चुनौती का यह काम था कि इस सर्जरी के बाद भी उसका पैर बच जाए जिसमें टाटा संस्थान सफल रही।

होमी भाभा कैंसर अस्पताल एवं अनुसंधान केंद्र,  मुजफ्फरपुर के प्रभारी डॉ. रविकांत सिंह ने बताया कि महामारी के दौरान इस महीने अभी तक  20 से ऊपर सर्जरी अस्पताल में की गई। 600 से ऊपर कीमोथेरेपी हुई है। वहीं 100 से ऊपर मरीज इस कोविड के समय भी रोज आ रहे हैं। होमी भाभा कैंसर अस्पताल मरीजों को सेवा देने के साथ ही कैंसर का जल्द पता करने के लिए स्क्रीनिंग अभियान के साथ ही जागरूकता से जुड़े कार्यक्रम भी संचालित कर रहा है। फिलहाल ये अभियान बिहार के 16 जिलों में चला रहा है, इसका उद्देश्य समय रहते बीमारी की पहचान कर इलाज शुरू करना है।

Find Us on Facebook

Trending News