जमीन विवाद में आर्मी जवान के परिवार पर जानलेवा हमला में नहीं हुई आरोपियों की गिरफ्तारी, न्याय के लिए भटक रहा जवान

जमीन विवाद में आर्मी जवान के परिवार पर जानलेवा हमला में नहीं हुई आरोपियों की गिरफ्तारी, न्याय के लिए भटक रहा जवान

नवादा. जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के पकड़िया गांव में 14 डिसमिल जमीन के विवाद में आर्मी के सेवानिवृत जवान के परिवार पर हुए जानलेवा हमला मामले में पीड़ित न्याय के लिए भटक रहा है. आदित्य सिंह के पुत्र आर्मी के रिटायर जवान चंदन कुमार ने बताया कि हमारा 14 डिसमिल जमीन को लेकर 2020 से ही विवाद चल रहा है। लेकिन यह विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार मारपीट की घटना को भी अंजाम दिया जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि मैं 17 साल पहले ही आर्मी जवान से रिटायर हुआ हूं। जुलाई 2020 में भी हमारे साथ भी मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया था जहां कांड संख्या 267/20 मामला दर्ज किया गया था। हम लोग जमीन की विवाद को सुलझाना चाहते हैं। लेकिन विवाद बढ़ता जा रहा है। फिर से मेरे ही चचेरे भाई को 6 दिसंबर के साथ मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया और 17 जगह पर चाकू मारकर घायल किया गया था। जहां मुफस्सिल थाना में 344/22 मामला के तहत संजय सिंह सहित सात लोगों को अभियुक्त भी बनाया गया था। 

उन्होंने कहा कि 17 साल देश की सेवा किया. कुछ दबंग व राजनीतिक तत्व के लोगों के द्वारा हम लोगों को परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों पर हमने F.I.R कराए हैं। वह लोग की ओर से लगातार दबाव भी दिया जा रहा है। वहीं युवक के द्वारा न्याय के लिए दर-दर भटक रहे हैं। उन्होंने मांग किया है कि जो भी व्यक्ति इस मामले में फरार चल रहे उन लोगों की गिरफ्तारी की जाए।

वहीँ इस मामले को लेकर नवादा के पुलिस कप्तान ने बताया की जिला के मुफस्सिल थाना क्षेत्र अंतर्गत जमीन विवाद को लेकर मारपीट एवं लड़ाई झगड़ा हुआ था। जिसके पश्चात पीड़िता के द्वारा मुफस्सिल थाना कांड संख्या 344/ 22 दर्ज  करवाकर घटना में शामिल 7 लोगों को अभियुक्त बनाया गया था। जिसमें अनुसंधान के क्रम में कुल 5 अभियुक्तों पर आरोप सत्य पाया गया है। जिसकी गिरफ्तारी के लिए मुफस्सिल थाना के द्वारा लगातार छापेमारी की जा रही है।

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News