विधायक को बुलाकर नही पहुंचे अधिकारी, वेलनेस सेंटर का बिना शिलान्यास किए ही बैरंग वापस लौटीं जदयू एमएलए

 विधायक को बुलाकर नही पहुंचे अधिकारी, वेलनेस सेंटर का बिना शिलान्यास किए ही बैरंग वापस लौटीं जदयू एमएलए

MOTIHARI : सुशासन के सरकार में अधिकारी  माननीय पर भारी पड़ रहे है। विधानसभा में लगातार माननीय अधिकारियों के द्वारा सम्मान नही देने का मुद्दा उठता रहा है । विधानसभा में  सरकार हमेशा माननीय का सम्मान करने का आश्वासन देता है। लेकिन अधिकारी इसे मानने को तैयार नही है । ताजा मामला मोतिहारी के केसरिया विधानसभा से जुड़ा है। बिहार चिकित्सा सेवाए एवम आधारभूत सरंचना निगम लिमिटेड स्वाथ्य विभाग द्वारा हेल्थ वेलनेस सेंटर का निर्माण बरवा पंचायत के श्यामपुर में किया जा रहा है ।संवेदक द्वारा केसरिया विधायक से शिलान्यास का समय रविवार को निर्धारित कर विभागीय अधिकारी को दिया गया था। जदयू विधायक शालनी मिश्र शिलान्यास के लिए स्थल पर पहुची। लेकिन शिलान्यास स्थल पर विधायक घंटो अधिकारी का इंतजार करती रही लेकिन कोई अधिकारी नही पहुंचे। विधायक अधिकारियों को फोन करने के बाद बिना शिलान्यास के ही बैरंग वापस लौट गई ।

हेल्थ एंड वेलेनस सेंटर का बिना शिलान्यास किये लौटी विधायक

केसरिया विधानसभा के संग्रामपुर प्रखण्ड के बरवा पंचायत के श्यामपुर गांव में स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्माणाधीन हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर का  निर्माण कार्य चल रहा हैं जिसकी रविवार को केसरिया विधायक शालिनी मिश्र कार्य का शिलान्यास करने पहुंची। लेकिन कार्यक्रम का दिन और तिथि निर्धारित होने के बावजूद  विभागीय पदाधिकारी गायब रहें। आलम यह रहा कि स्थल पर किसी तरह की व्यवस्था नहीं थी जिसके चलते उन्हें वापस लौटना पड़ा। विधायक सूचना के बाद भी अधिकारियों के नही पहुंचने पर फोन कर नाराजगी जतायी गयी। 

सीएम -स्वास्थ्य मंत्री के पास होगी शिकायत

केसरिया जदयू विधायक शालनी मिश्र ने बतायी कि संवेदक द्वारा शिलान्यास के लिए समय निर्धारित किया गया था .शिलान्यास स्थल पर पहुचने पर विभागीय कोई अधिकारी मौजूद नही थे ।संवेदक द्वारा बताया गया कि कार्यक्रम की सूचना सभी अधिकारियों को दिया गया था ।उसके बाद भी कोई अधिकारी नही पहुचे ।इसलिए बिना कार्य के बारे में जनकारी व प्राकलन की जनकारी के शिलान्यास करना उचित नही लगा ।इसलिए बिना शिलान्यास के वापस लौट गई। अधिकारियों की शिकायत सरकार में की जाएगी।

निर्माण को लेकर ढेर सारी शिकायतें

वहीं ग्रामीणों ने हेल्थ वेलनेस सेंटर निर्माण में भारी अनियमितता का शिकायत किया गया। उपस्थित  ग्रामीणों ने यह भी बताया कि यह ठेका एसके इंटरप्राइजेज को मिला हैं। जिसकी प्राक्कलित राशि 70 लाख हैं। जिसको मुख्य संवेदक द्वारा पेटी कॉन्टेक्ट में शमशाद आलम को दिया हैं। ग्रामीणों के शिकायत के बाद विधायक ने कहा इसकी जांच विभागीय उच्चस्तरीय टीम से करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि विकास योजनाओं में किसी तरह की गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं होगी।


Find Us on Facebook

Trending News