अफसरशाही पर एक साथ आया विपक्ष, कहा - सूबे के हर ऑफिस में लूट तंत्र हावि, अधिकारी-कर्मचारी बेलगाम

अफसरशाही पर एक साथ आया विपक्ष, कहा - सूबे के हर ऑफिस में लूट तंत्र हावि, अधिकारी-कर्मचारी बेलगाम

PATNA : बिहार विधान मंडल मैं शीतकालीन सत्र का आज आखिरी दिन है सत्र की आखरी दिन की शुरुआत माले व कांग्रस विधायकों ने बिहार में जारी अफसरशाही का विरोध जताकर किया। 

सदन परिसर के बाहर प्रदर्शन कर विधायकों ने कहा कि जिस तरह  कल जिस तरह बिहार सरकार के एक मंत्री की गाड़ी को सदन के बाहर ही रोका गया उसके बाद बिहार में अफसरशाही का मुद्दा एक बार फिर से गरमा गया है माले विधायकों ने कहा की एनडीए सरकार में अफसरशाही बिल्कुल चरम पर है अधिकारी और कर्मचारी किसी जनप्रतिनिधि की बात नहीं सुनते हैं कल हुई घटना कोई नहीं गई है इससे पहले भी कई बार बिहार के अधिकारियों ने जनप्रतिनिधियों का अपमान किया है। बिहार के नीतीश सरकार उन पर लगाम लगाने में बिल्कुल नाकाम साबित हुई है

वही कांग्रेस विधायकों ने भी बिहार में अफसरशाही को लेकर सदन परिसर के बाहर प्रदर्शन किया। कांग्रेस विधायकों का कहना था कि बिहार के ऑफिस ऑफिस में लूट तंत्र फैला हुआ है। जिस पर रुक लगाना अब मुश्किल हो गया है। यहां किसी भी काम को कराने के लिए आपको पैसे देने पड़ते हैं। अधिकारी पूरी तरह से बेलगाम हो चुके हैं कांग्रेस विधायक  अजीत शर्मा ने कहा नीतीश सरकार भले ही यह कहती है कि अधिकारी जनप्रतिनिधियों का सम्मान करें. लेकिन जनप्रतिनिधि से कितनी से गंभीरता से ले रहे हैं। कल हुई घटना इसका प्रमाण है। उन्होंने कहा कि सरकार को इस पर तत्काल कार्रवाई करने की जरूरत है

Find Us on Facebook

Trending News