मानसून सत्र के तीसरे दिन की कार्यवाही को लेकर बिहार में विपक्ष ने बनाई है यह योजना, कहा - इस काम में नहीं बनेंगे बाधा

मानसून सत्र के तीसरे दिन की कार्यवाही को लेकर बिहार में विपक्ष ने बनाई है यह योजना, कहा - इस काम में नहीं बनेंगे बाधा

PATNA : बिहार में अग्निपथ योजना को लेकर सबसे ज्यादा विरोध हुआ। अब बिहार विधानमंडल के मानसून सत्र में अग्निपथ योजना को लेकर विपक्ष खूब हंगामा कर रहा है। सोमवार की सदन की कार्यवाही इस कारण से ही स्थगित कर दी गई। अब सत्र के तीसरे दिन को लेकर भी विपक्ष ने अपने विरोध को जारी रखने का फैसला किया है। सोमवार को पूर्व मंत्री और विधायक आलोक कुमार मेहता के आवास पर राजद विधायक दल की बैठक में तय किया गया कि केन्द्र सरकार की अग्निपथ योजना का विरोध विधान मंडल में किया जाएगा। लेकिन इसके साथ ही सदन में कुछ जरुरी मुद्दों पर कार्यवाही चलने देने पर भी सहमति बनी है। 

प्रश्नोत्तर काल को नहीं करेंगे बाधित

राजद की बैठक में यह फैसला लिया गया कि सदन में प्रश्नोत्तर काल चलने दिया जाए। यानी अल्पसूचित प्रशन और तारांकित प्रश्न के जवाब के समय राजद के विधायक किसी तरह का हंगामा नहीं करेंगे। लेकिन इसके बाद अग्निपथ का विरोध जारी रहेगा। बैठक को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि विधानसभा मे प्रश्न काल बहुत महत्वपूर्ण होता है। इसके माध्यम से विपक्ष सदन में सरकार को घेरती है और जनता से जुड़े मुद्दे पर सरकार को जनता के हित मे कार्य करने को मजबूर करती है।  

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सदन में मजबूती के साथ जनता की आवाज को उठाएं। जनता के विश्वास को जीतें। सदन मे पूरे समय उपस्थित रहें और नेता के निदेश के अनुसार सदन की कार्यवाही में भाग लें। हम चुपचाप नहीं बैठें बल्कि नेता के निदेश पर अपने कर्तव्य और दायित्व का निर्वाह करें।

इस दौरान बैठक में बैठक को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव, प्रदेश राजद अध्यक्ष जगदनानंद सिंह, पूर्व राजद प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र पूर्वे, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी, पूर्व विधान परिषद सदस्य तनवीर हसन, विधायक अवध बिहारी चौधरी, आलोक कुमार मेहता, पूर्व मंत्री श्याम रजक, कुमार सर्वजीत, प्रह्लाद यादव, भूदेव चौधरी, ललित यादव, विधान पार्षद सुनील कुमार सिंह सहित कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया।

Find Us on Facebook

Trending News