पटना-गया-डोभी सड़क बनने का रास्ता हुआ साफ, तीन भागों में बांटकर की जाएगी निविदा

पटना-गया-डोभी सड़क बनने का रास्ता हुआ साफ, तीन भागों में बांटकर की जाएगी निविदा

PATNA : बनते-बनते रह गया, वाली कहावत पटना गया डोभी रोड पर बिल्कुल चरितार्थ है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की बहुप्रतीक्षित योजना पटना- गया-डोभी सड़क निर्माण का प्रारम्भ तो बड़े ही जोर-शोर से किया गया, लेकिन एक कंपनी ने सब बंटाधार कर दिया। 

आईएलएफएस नामक कंपनी को पटना -गया-डोभी सड़क का काम सौंपा गया था। लेकिन जमीन अधिग्रहण में आ रही दिक्कतों और कंपनी के लचर रवैया की वजह से पटना-गया-डोभी सड़क का काम सिर्फ 9 फीसद ही हो पाया।

 अब सड़क निर्माण में बाधा बन रही सारी समस्याएं खत्म हो गई है। सड़क विभाग से जुड़े एक आला अधिकारी की माने तो जमीन अधिग्रहण का काम पूरा हो चुका है। इसकी औपचारिकता सितंबर में पूरी कर ली जाएगी साथ ही सड़क निर्माण के पैकेज भी पूरी तरह तैयार कर लिए गए हैं।

तीन अलग-अलग भागों में बांटकर बनाई जाएगी सड़क

एक सड़क निर्माण कंपनी के बड़े अधिकारी के अनुसार पटना-गया-डोभी सड़क के निर्माण हेतु पैकेज तैयार कर लिया गया है। यह पैकेज जिले को आधार बनाकर बनाया गया है। मतलब गया जहानाबाद और पटना जिला के अंतर्गत आने वाले सड़कों को जिले के हिसाब से तीन भागों में बांट दिया गया है।

पहले पटना से डोभी तक का काम एक ही निर्माण एजेंसी को करना था, लेकिन अब इसकी जिम्मेवारी अलग-अलग एजेंसियों को दी जाएगी। इसे ऐसे समझिए की पटना जिले का पैकेज 34 किलोमीटर का है तो जहानाबाद जिले के अंतर्गत आने वाले पैकेज 44 किलोमीटर का, तो वही गया जिले के अंतर्गत आने वाले सड़क का पैकेज 62 किलोमीटर का है जो अलग-अलग निर्माण एजेंसियों को दिया जाएगा।

गौरतलब है कि पटना-गया-डोभी सड़क फोरलेन में जो सबसे बड़ी बाधा आ रही थी। वह जमीन अधिग्रहण से संबंधित थी। बताया जा रहा है कि उसे अब पूरी तरह खत्म कर लिया गया है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय जल्द ही निर्माण को लेकर निविदा पर नीतिगत फैसले लेगा।

Find Us on Facebook

Trending News