100 करोड़ की ठगी कर फरार ट्रस्ट के संचालक को पुलिस ने धर-दबोचा, यह सामान किया गया बरामद, 3000 से ज्यादा महिला समूह को लगाया था चूना

100 करोड़ की ठगी कर फरार ट्रस्ट के संचालक को पुलिस ने धर-दबोचा, यह सामान किया गया बरामद, 3000 से ज्यादा महिला समूह को लगाया था चूना

MOTIHARI : मोतिहारी पुलिस को बड़ी सफलता मिली है ।मोतिहारी पुलिस ने महिला का समूह बनाकर लगभग सौ करोड़ रुपया गबन के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपी मदर टरेसा फ्यूचर फाउंडेशन ट्रस्ट के शाखा प्रबंधक निर्भय कुमार यादव बताया जा रहा है। आरोपी के खिलाफ एक महिला समूह द्वारा 20 महिलाओ के समूह से साढ़े चार करोड़ रुपया गबन की प्राथमिकी दर्ज कराने पर एसपी द्वारा गठित एसआईटी टीम ने यह कार्रवाई की है। पुलिस गिरफ्तार शाखा प्रबंधक से पूछताछ में जुटी है। मामला मधुबन थाना का बताया जा रहा है। समूह की महिलाओ  द्वारा शाखा प्रबंधक के घर का धेराव,चकिया में सड़क जाम,समाहरणालय में धरना देने के बाद पुलिस ने करवाई करते हुए शाखा प्रबंधक व सहायक को गिरफ्तार किया है ।

मोतिहारी एसपी नवीन चन्द्र झा ने प्रेस  कॉन्फ्रेंस कर बताया कि मदर टरेसा फ्यूचर फाउंडेशन ट्रस्ट के एक समूह  के महिला कौशल्या देवी ने मधुबन थाना कांड संख्या 218 /21 ,14 जुलाई  को दर्ज कराया गया था। जिसमे 20-20 महिलाओं के एक-एक समूह से साढ़े चार करोड़ रुपया वसूल कर गबन करने का आरोप लगाया गया था। मधुबन थाना कांड संख्या दर्ज करने के बाद एसपी ने पकड़ीदयाल डीएसपी के नेतृत्व में एक एसआईटी का गठन किया गया ।एसआईटी टीम ने मधुबन थाना क्षेत्र के बंजरिया के निर्भय कुमार यादव व पीपरा थाना क्षेत्र के चकबरा के पंकज कुमार को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार निर्भय कुमार यादव ट्रस्ट के शाखा प्रबंधक बताए जा रहे है।गिरफ्तार प्रबंधक के पास से पुलिस ने  पेन ड्राइव ,कई बैंक का पासबुक सहित कई दसतावेज को जब्त किया है। पुलिस प्रबंधक से पूछताछ में जुटी है। वहीं नामजद और आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

एसपी नवीन चन्द्र झा ने बताया कि गिरफ्तार निर्भय कुमार यादव मदर टरेसा फ्यूचर फाउंडेशन ट्रस्ट के सहयोग से धोखाधड़ी कर 20 -20 महिलाओ का समूह बनाकर प्रति महिला 22 हज़ार 500 की वसूली किया था। मोतिहारी जिला के चकिया,फेनहारा,मधुबन,राजेपुर,घोड़ासहन,पकड़ीदयाल,पीपरा ,मुजफ्फरपुर के पानापुर,मोतीपुर व शिवहर जिला के भटहा थाना क्षेत्र के के अभियुक्तों से मिलकर लभगभग सौ करोड़ से अधिक राशि का महिला समूहों  से वसूली कर गबन किया गया है । एसपी ने बताया की महिला समूह के सदस्य के प्राथमिकी के बाद पकड़ीदयाल डीएसपी सुनील कुमार सिंह के नेतृत्व में एसआईटी टीम का गठन किया गया था । एसआईटी टीम ने मुख्य आरोपी सहित दो को गिरफ्तार कर लिया है।बाकी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है।

क्या था पूरा मामला

मामला विगत माह 14 जुलाई का है, जह यह मामला उजागर हुआ था। जब महिलाएं भुगतान के लिए मंगलवार की रात निर्भय कुमार यादव के घर पहुंचीं। ठगी की शिकार महिलाएं बुधवार की सुबह निर्भय के दरवाजे पर बैठ कर घर खोलने का प्रयास करने लगी। घर भीतर से बंद था. जब काफी समय तक दरवाजा नहीं खुला तो अफरा तफरी की स्थिति उत्पन्न हो गई. जैसे ही इन महिलाओं को एहसास हुआ कि वह बड़ी ठगी का शिकार हुई हैं, उन्होंने हंगामा करना शुरू कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी ट्रस्ट के प्रबंधक के खिलाफ मामला दर्ज किया था। आरोप था कि प्रबंधक 3000 से ज्यादा महिला समूहो से 135 करोड़ से ज्यादा की वसूली कर चुका है। इस दौरान उसने हर समूह से साढ़े चार लाख की वसूली की।

Find Us on Facebook

Trending News