प्राईवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन ने पीएम से लगाई गुहार, भूखमरी के कगार पर शिक्षक और कर्मचारी, कीजिये मदद

प्राईवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन ने पीएम से लगाई गुहार, भूखमरी के कगार पर शिक्षक और कर्मचारी, कीजिये मदद

Patna : प्राईवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष शमायल अहमद ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से निजी स्कूलों के शिक्षकों और कर्मचारियों की आर्थिक सहायता किये जाने की गुहार लगाई है। 

शमायल अहमद ने कहा है कि मार्च से लॉक डाउन होने के बाद आज तक स्कूल फीस ना आने के कारण स्कूल में कार्य करने वाले शिक्षकों एवं कर्मियों को भुगतान करने में स्कूल असमर्थ हो चुका है जिस कारण स्कूल कर्मी एवं उनका परिवार भुखमरी का सामना कर रहा है। इसके साथ स्कूल प्रबंधक पर भी जमीन बिल्डिंग का किराया बैंक लोन, गाड़ियों की किस्त रोड टैक्स बिजली बिल आदि का कर्ज बढ़ता जा रहा है जिसके कारण कई स्कूलों के संचालक की जान जा चुकी है और कई मानसिक तौर पर बीमार पड़ गए हैं।

एसोसिएशन 2 लाख निजी विद्यालयों और उनके यहां कार्यरत शिक्षकों के द्वारा 28 जून से 30 जून के बीच  पत्र लिखकर प्रधानमंत्री से आर्थिक सहायता की मांग की थी पर अभी तक पूरे देश के 28 राज्यों से हजारों हजार पत्र प्रधानमंत्री के पास जा चुके है। लेकिन प्रधानमंत्री की तरफ से कोई भी सहायता नहीं मिली है।

उन्होंने कहा है कि भारतीय नागरिक होने के नाते हम सरकार से हमलोगो को आर्थिक अनुदान देने का निवेदन करते हैं और प्रधानमंत्री से अपेक्षा करते हैं कि वह हमारी विनती स्वीकार करें और आर्थिक सहायता करें। 

अहमद ने कहा है कि शिक्षा की मंदिर से जुड़े एवं देश का भविष्य बनाने वाले लाखों लोग बेरोजगार हो चुके हैं उनके परिवार भुखमरी के शिकार हो चुके हैं। देश की शिक्षा एवं उज्जवल भविष्य को ध्यान में रखते हुए देश के मुखिया से विनम्रतापूर्ण सहायता की अपेक्षा है।

Find Us on Facebook

Trending News