बिहार में शुरू हुआ बैठकों का दौर, नीतीश जाएंगे किस ओर... सब कुछ हो गया फाइनल, JDU की बैठक में लगेगी मुहर

बिहार में शुरू हुआ बैठकों का दौर, नीतीश जाएंगे किस ओर... सब कुछ हो गया फाइनल, JDU की बैठक में लगेगी मुहर

पटना. बिहार की राजनीति में अचानक से सब कुछ बदल गया है. कल तक जिस मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नीत एनडीए सरकार के 2025 तक के कार्यकाल को पूरा होने का भाजपा और जदयू दावा कर रहे थे, वही दल अब नई सियासी रणनीति बनाने में लग गए हैं. मंगलवार को सुबह 11 बजे से जदयू के सांसदों और विधायकों की सीएम नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बैठक होने वाली है. इसी बैठक में नीतीश कुमार अपने भविष्य की रणनीति से नेताओं को अवगत करा सकते हैं.

सूत्रों का कहना है कि जदयू ने सब कुछ फाइनल कर लिया है. नीतीश कुमार और अन्य शीर्ष जदयू नेताओं की राजद सहित कांग्रेस एवं अन्य महागठबंधन के घटक दलों के नेताओं से बिहार में पिछले कुछ दिनों के दौरान बात हुई है. इसमें राज्य में सत्ता परिवर्तन को लेकर अहम बात होने का दावा किया जा रहा है. इसी के बाद भाजपा के भी होश उड़े और गृह मंत्री अमित शाह सहित अन्य भाजपा हाई कमान ने नीतीश कुमार को मनाने की कोशिश शुरू कर दी. 

हालांकि जदयू नेताओं का दावा है कि मंगलवार को होने जा रही बैठक में मुख्य एजेंडा जदयू से इस्तीफा देने वाले आरसीपी सिंह के मुद्दे पर चर्चा है. आरसीपी को लेकर जदयू के कई नेताओं में सहानुभूति की बातें की जा रही हैं. कहा जा रहा है कि सीएम नीतीश और जदयू अध्यक्ष ललन सिंह ऐसे नेताओं को सख्त संदेश देने के लिए ही यह बैठक बुलाए हैं. इसमें पार्टी के ‘नाखुश’ नेताओं को जदयू से गद्दारी नहीं करने और पार्टी के साथ मिलकर सन्गठन को सशक्त करने की चर्चा की जा सकती है. 


साथ ही बैठक में यह भी टटोला जाएगा कि कौन से नेता राजद के साथ जाने का समर्थन नहीं करेंगे. वहीं एनडीए के प्रति किन नेताओं का झुकाव है इसका भी आकलन किया जाएगा. सत्ता परिवर्तन की स्थिति में कौन से नेता भविष्य में नीतीश कुमार के खिलाफ जा सकते हैं इस पर चर्चा होगी. 

जदयू की बैठक एक प्रकार से सत्ता परिवतर्न की संभावना को नेताओं की सहमती से मुहर लगवाने की कवायद हो सकती है. साथ ही बदले राजनीतिक हालत में किस तरह से भाजपा से राजनीतिक लड़ाई लडनी है और कैसे राजद सहित अन्य दलों से सामंजस्य बिठाना है इन मुद्दों पर भी रणनीति बन सकती है. हालांकि पार्टी के किसी नेता की ओर से अभी तक राज्य में सत्ता परिवर्तन की खबरों पर मुहर नहीं लगाई जा रही है. 


Find Us on Facebook

Trending News