कोडरमा के जंगल में सीआरपीएफ ने चलाया सर्च अभियान, देशी कट्टा और जिन्दा कारतूस बरामद

कोडरमा के जंगल में सीआरपीएफ ने चलाया सर्च अभियान, देशी कट्टा और जिन्दा कारतूस बरामद

KODERMA : सतगावां के उग्रवाद प्रभावित पंचायत राजाबर के छपरी गाँव के जामोडीह जंगल कई दिनों से कुछ संदिग्ध लोगों को देखा जा रहा था. इसकी गुप्त सूचना स्थानीय लोगों ने सीआरपीएफ को दी थी. इसी सिलसिले में सीआरपीएफ और स्थानीय पुलिस की ओर से सर्च अभियान चलाया जा रहा था. 

सर्च अभियान के दौरान देशी पिस्टल और कारतूस बरामद किया गया. सीआरपीएफ जी/22 वाहिनी के इंस्पेक्टर अमरेश कुमार ने बताया कि सीआरपीएफ 22 वी वाहिनी हजारीबाग के कमांडेंट आर के सिंह और द्वितीय कमान अधिकारी अभियान अजीत कुमार के मार्गदर्शन में सर्च अभियान चलाया गया. जिसमे सीआरपीएफ के अलावा स्थानीय पुलिस के अधिकारी और सीआरपीएफ जवान शामिल थे. टीम 7:35 बजे सुबह छपरी जंगल की ओर गयी थी. इस दौरान करीब 9:25 बजे छपरी गाँव के जामोडीह जंगल के झाड़ी में संदिग्ध अवस्था में प्लास्टिक और बंधा झोला जमीन पर दिखा.

 इस पर एक जवान का नज़र पड़ा. जब उसकी जांच की गयी तो उसमें 3 पीस देसी कट्टा, सिक्सर 1 पीस और कारतूस नाइन एमएम 15 पीस, 303 का एमएम का 5 कारतूस बरामद किया गया. मामले की सूचना वरीय पदाधिकारियों को दी गयी है. सर्च अभियान में सीआरपीएफ जी/22 वाहिनी के इंस्पेक्टर अमरेश कुमार और एसआई राजनारायण उपाध्याय के अलावा सीआरपीएफ के दर्जनों जवान शामिल थे. देसी पिस्टल और कारतूस मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है. 

वहीं सीआरपीएफ के इंस्पेक्टर का कहना है कि पुलिस के डर से लोग हथियार जंगली इलाका में छिपा देते हैं. हथियार के समीप कोई संदिग्ध व्यक्ति नहीं था.  सूचना मिलते ही थाना प्रभारी सोनी प्रताप सिंह राजाबर ने सीआरपीएफ कैम्प पहुंचकर मामले की जानकारी लिया. मौके पर सीआरपीएफ जी/ 22 वाहिनी के जवान शौकत हुसैन, अवतार सिंह, विनोद पासवान, अब्दुल कादिर, अमरेंद्र कुमार, राजेश तिवारी, अवध बिहारी सहित कई जवान मौजूद थे.

कोडरमा से आर्यन श्रीवास्तव की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News