राज्य में कोरोना की स्थिति पर हाईकोर्ट में अगले माह की जाएगी समीक्षा, फिजिकल सुनवाई पर भी लिया जाएगा फैसला

राज्य में कोरोना की स्थिति पर हाईकोर्ट में अगले माह की जाएगी समीक्षा, फिजिकल सुनवाई पर भी लिया जाएगा फैसला

PATNA: कोरोनावायरस की स्थिति का जायजा पटना हाईकोर्ट दशहरा के अवकाश के बाद लेगा। इसके लिए 20 अक्टूबर, 2021 की तारीख मुकर्रर की गई है। इसके अलावा अवकाश के बाद कोर्ट को फिजिकली शुरू करने को लेकर भी फैसला लिया जाएगा। साथ ही यह भी निर्णय लिया जाएगा कि फिजिकल कोर्ट की कार्यवाही किस हद तक संभव होगी और इसे किस प्रकार चलाया जा सकेगा।

पिछले वर्ष मार्च से ही कोर्ट में मुकदमों की सुनवाई वर्चुअल मोड पर की जा रही हैं। अधिवक्ता संघो ने पटना हाईकोर्ट प्रशासन से फिजिकल कोर्ट शुरू करने का अनुरोध किया। हालांकि कोरोना महामारी को देखते हुए हाईकोर्ट प्रशासन ने फिजिकल कोर्ट नहीं शुरू किया। 4 जनवरी, 2021 से पटना हाईकोर्ट में करोना के लिए जारी दिशा-निर्देश व सुरक्षा नियमों के तहत हाइब्रिड कोर्ट शुरू किया गया। इसमें प्रथम पाली में फिजिकल कोर्ट के माध्यम से मामलों की सुनवाई होती थी और द्वितीय पाली में ऑनलाइन सुनवाई होती थी। इसी बीच मार्च, 2021 में कोरोना महामारी के फिर से बढ़ने के कारण अप्रैल, 2021 से फिर मामलों की ऑनलाइन सुनवाई शुरू हुई, जो अबतक चल रही हैं।

इस बीच वकीलों और अधिवक्ता संघो ने कई बार फिजिकल कोर्ट शुरू करने के चीफ जस्टिस से मांग की। इस कोरोना महामारी काल में वकीलों और उनके साथ जुड़े स्टाफ की स्थिति काफी खराब हो गई। उन्हें गहरे आर्थिक संकट का सामना करना पड़ा। बहुत सारे वकील अपने घर गांव चलें गए और उन्हें काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा है। एक ओर कोर्ट बंद होने से उनके आय का स्रोत खत्म हो गया, वहीं सरकार और बार काउन्सिल के द्वारा भी बहुत प्रभावी आर्थिक मदद नहीं दी गई। 

Find Us on Facebook

Trending News