शराब कारोबारियों की सूचना देते रहे ग्रामीण, नहीं पहुंची पुलिस, लोगों ने किया हंगामा

शराब कारोबारियों की सूचना देते रहे ग्रामीण, नहीं पहुंची पुलिस, लोगों ने किया हंगामा

SAMASTIPUR : रोसड़ा अनुमंडल के सिंघिया थाना क्षेत्र के बेहट गांव में देर रात्रि ग्रामीणों ने देसी शराब बनाने और बेचने वाले लोगों का  पर्दाफाश कर दिया. ग्रामीणों ने कुछ शराब झाड़ी से निकाले तो कुछ बगीचे से निकाले. कुछ शराब गन्ने की खेत में छिपाकर रखे गए थे. जगह जगह से ग्रामीणों ने लगभग सैकड़ों टिन शराब को जब्त कर लिया. उन्होंने स्थानीय पुलिस को फोन कर इसकी सूचना दी. लेकिन  स्थानीय पुलिस ने रात्रि में आना मुनासिब नहीं समझा. सुबह ग्रामीणों ने फिर से इसकी सूचना सिंघिया थाना अध्यक्ष को दी. 

जिसके बाद  सिंधिया पुलिस दिन के लगभग 2:00 बजे बेहट गांव पहुची. ग्रामीणों का कहना था की शराब कारोबार करने वाले व्यक्ति के ऊपर एफ आई आर दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाए. लेकिन वहाँ पर सिंघिया थाना अध्यक्ष एफआर करने से मना कर दिया. इस बात को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश भर गया और केलुहाघाट से रोसड़ा जाने वाली पथ को बांस बल्ले से जाम कर पुलिस मुर्दाबाद का नारे लगाने लगे. ग्रामीणों का कहना है जब तक शराब माफिया के ऊपर आईआर दर्ज कर गिरफ्तार नहीं किया जायेगा. तब तक पथ को जाम से मुक्त नहीं किया जाएगा. 

बता दे सिंघिया थाना अध्यक्ष पंकज कुमार ने ग्रामीणों को विश्वास दिलाते हुए कहा है कि शराब माफिया विनोद साहनी, महेश्वर साहनी,   बिशुन साहनी, संजय पासवान, टुनटुन पासवान, विजय मुखिया, बुटन साहनी, मनोज साहनी पर कार्रवाई की जाएगी. वहीँ थाना अध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि ऑक्सी टॉप सी दवाई और टेबलेट के जरिए यह लोग देसी शराब बनाने का काम कर रहे है. इन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. बहुत जल्द उनकी गिरफ्तारी कर ली जाएगी. इसके बाद ग्रामीणों ने केलुहाघाट रोसड़ा पथ को जाम से मुक्त किया.

समस्तीपुर से प्रवेश कुमार सोनू की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News