VIP पार्टी का ऐलान, मछली बिक्री पर लगे प्रतिबंध को हटाए सरकार, नहीं तो होगा आंदोलन

VIP पार्टी का ऐलान, मछली बिक्री पर लगे प्रतिबंध को हटाए सरकार, नहीं तो होगा आंदोलन

PATNA : राज्य सरकार द्वारा आंध्र-प्रदेश की मछली पर बैन को वीआईपी पार्टी ने साजिश करार दिया है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी का कहना है कि आंध्र-प्रदेश की मछली में फॉर्मलिन की बात कर सरकार स्वास्थ्य रक्षा के नाम पर एक मछुआरा समाज को टारगेट कर रही है। 

सहनी का कहना है कि सरकार का कहना है कि आंध्र-प्रदेश की मछली में फॉर्मलिन पाया गया है। जबकि आंध्रा के सीएम ने पत्र लिखकर कहा है कि उनके राज्य से सप्लाई होने वाली मछली में ऐसे तत्व नहीं है। वहीं सरकार द्वारा प्रदेश में उत्पादित सिर्फ जिंदा मछलियों की बिक्री की बात की गई है। सरकार को अपने ही जांच पर विश्वास नहीं है। जिससे यह साफ है कि ऐसा एक साजिश के तहत एक विशेष वर्ग को परेशान करने के लिए किया गया है। 

अध्यक्ष ने कहा कि हम यह नहीं चाहते है कि प्रदेश की 11 करोड़ जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ हो। सरकार इसकी अच्छे तरह से जांच करवाए, लेकिन मछली की बिक्री पर प्रतिबंध की बात ठीक नहीं है। प्रतिबंध से मछुआरा समाज के सामने रोजी-रोटी का संकट पैदा होगा। सरकार इस आदेश को वापस ले नहीं तो इसके खिलाफ आंदोलन किया जायेगा। 

बताते चलें कि आंध्रा से आनेवाली मछलियों में कैंसर कारक तत्व फार्मलिन को पाये जाने की बात सामने आने के बाद पटना में मछली की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। हालांकि बाद में इसमें थोड़ा बदलाव करते हुए बिहार में उत्पादित जिंदा मछलियों की बिक्री की अनुमति दी गई थी।

वहीं आज मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया कि आंध्रा की मछली पर रोक आगे भी जारी रहेगी। 

Find Us on Facebook

Trending News