नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी के वाहन पर युवक ने किया हमला, हमलावर ने यह बताया कारण

नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी के वाहन पर युवक ने किया हमला, हमलावर ने यह बताया कारण

NAUGACHHIA : नवगछिया नगर परिषद कार्यालय के पास नगर के कार्यपालक पदाधिकारी सुमित्रानंदन के वाहन पर एक अज्ञात युवक द्वारा ईंट से हमला करने का मामला प्रकाश में आया है. इस घटना में हमला करने वाले शख्स ने कई बार पदाधिकारी के वाहन पर ईंट से हमला किया. लेकिन चालक और नगर परिषद कार्यालय के गार्ड की सूझ बूझ से कार्यपालक पदाधिकारी बाल बाल बच गए. वे पूरी तरह से सुरक्षित हैं. घटना का सीसीटीभी फुटेज सोसल मीडिया में वायरल है जबकि ईंट से हमला करने वाले की पहचान वार्ड नंबर 19 का निवासी रमेश कुमार साह के रूप में की गयी है. घटना के बाद गुस्साए लोगों द्वारा रमेश कुमार साह की पिटाई कर दिए जाने की बात सामने आ रही है. रमेश का इलाज नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में कराया है. फिलहाल रमेश पुलिस हिरासत में है. जबकि इस मामले में नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी के चालक रोहित कुमार के लिखित आवेदन के आधार पर नवगछिया थाने में मामले की प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है.

मामले में चालक रोहित कुमार के अनुसार वे पदाधिकारी को लेकर दिन के 11:30 बजे जब वह कार्यालय आ रहा था. कार्यालय के समीप की वार्ड 19 निवासी रमेश कुमार ने ईंट से वाहन पर लगातार हमला किया हमले के बाद वह किसी तरीके से बचाव करते हुए कार्यपालक को लेकर कार्यालय पहुंचा। कार्यालय के मुख्य द्वार पर भी युवक रमेश कुमार के द्वारा कार्यपालक पदाधिकारी को चोटिल करने का प्रयास किया गया लेकिन समय रहते वहां मौजूद नाइट गार्ड ने उन्हें बचा लिया. रोहित का कहना है कि इस घटना के बाद फिर रमेश के साथ कई लोग नगर परिषद कार्यालय आये और पदाधिकारी के साथ मारपीट करने का प्रयास किया और उसके साथ भी मारपीट की. मामले में थनाध्यक्ष इंस्पेक्टर भरतभूषण ने कहा कि मामले में छानबीन प्रारंभ कर दिया गया है.


रमेश और उसके भाई ने क्या कहा

रमेश ने इस बात को स्वीकार किया कि उसने कार्यपालक के वाहन पर पत्थर चलाया है. रमेश ने कहा कि उसकी बीबी और बच्चे कहीं चले गए हैं. इसलिये वह सभी पदाधिकारियों के पास बार बार गुहार लगाने जाता है लेकिन कार्रवाई नहीं होती है. पत्थर चलाने के बाद उसे नगर परिषद कार्यालय में बुला कर बुरी तरह से पीटा गया. इधर रमेश के भाई रवि कुमार ने बताया कि वह घर पर था, उसी वक्त रमेश को कई लोगों द्वारा नगर परिषद कार्यालय ले जाया गया और उसके साथ मारपीट की गयी. जब वे लोग नगर परिषद कार्यालय मारपीट की बाबत कहने गए तो बोला गया कि यहां हल्ला मत करो, सीसीटीभी में रिकार्ड हो रहा है. सभी फंस जाओगे. इधर यह बात सामने आयी है कि रमेश दिमागी रूप से कमजोर है.

कार्यपालक पदाधिकारी ने कहा

नवगछिया नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी सुमित्रानंदन ने कहा कि जब वे अपने आवास से घर आ रहे थे तो उसी वक्त एक युवक ने उनके वाहन पर दो बार ईंट से हमला किया. इस घटना के बाद स्थल पर काफी लोग जमा हो गए, जिसके बाद उन्होंने मामले की सूचना पुलिस को दी. हमला क्यों किया गया, यह उन्हें जानकारी नहीं है.

Find Us on Facebook

Trending News