एक हत्या से बैकफुट पर आए! अब सरकारी ठेकों में चरित्र प्रमाण देना होगा इसके बिना नहीं कर सकते काम

एक हत्या से बैकफुट पर आए! अब सरकारी ठेकों में चरित्र प्रमाण देना होगा इसके बिना नहीं कर सकते काम

पटना।  बिहार में सभी तरह के सरकारी ठेकों में अब ठेकेदार को अपना चरित्र प्रमाण पत्र देना अनिवार्य कर दिया गया है। अब कोई भी ठेका लेने से पहले ठेकेदार एसपी कार्यालय से जारी किया गया प्रमाण पत्र जमा करेगा, तभी उन्हें ठेके का काम दिया जाएगा। सरकार ने इस आदेश को प्रदेश के सभी जिलों में सख्ती से लागू करने के लिए कहा गया है।

बिहार सरकार ने यह फैसला हाल में हुए इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या के बाद लिया है। रुपेश की हत्या में ठेकेदारी विवाद का मामला सामने आ रहा है। ऐसे में अब राज्य सरकार ने फैसला लिया है कि सभी ठेकेदारों के चरित्र प्रमाण पत्र जरूरी लिए जाएंगे इसके बाद ही उन्हें काम दिया जाएगा। गुरुवार को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में बैठक में सभी एसपी और डीएम को यह निर्देश दिया कि ठेका का काम लेने के लिए ठेकेदार के कैरेक्टर सर्टिफिकेट जरूर लिए जाएं। मुख्य सचिव ने कहाा कि यह नियम पहले से भी था लेकिन इस पर सख्ती से कार्रवाई नहीं हो रही थी।

कर्मियों को भी देना होगा प्रमाण पत्र

ठेकेदार के साथ काम करने वालों का भी लेना होगा प्रमाण पत्र नसीब ठेकेदार को एसपी कार्यालय से चरित्र प्रमाण पत्र लेना होगा बल्कि उनके साथ काम करने वाले दूसरे कर्मियों और अन्य लोगों को भी अपना कैरेक्टर सर्टिफिकेट दिखाना होगा ऐसा नहीं करते हैं तो उन्हें काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी बस स्टॉप पार्किंग सब्जी हॉट शामिल है


Find Us on Facebook

Trending News