पटना में मुखिया की हत्या के बाद खूब हो रहा बवाल, उग्र ग्रामीणों ने पुलिस पर किया पथराव

पटना में मुखिया की हत्या के बाद खूब हो रहा बवाल, उग्र ग्रामीणों ने पुलिस पर किया पथराव

पटना. राजधानी पटना के फुलवारीशरीफ प्रखंड के रामपुर फरीदपुर पंचायत से लगातार दूसरी बार निर्वाचित हुए मुखिया नीरज कुमार की मंगलवार को चुनावी रंजिश में गोली मार हत्या कर दी गई। सुबह-सुबह मुखिया की गोली मार के हत्या से इलाके में सनसनी फैल गई। एक बाइक सवार दो अपराधियों ने वारदात को अंजाम दिया और बाद में हथियार लहराते आराम से फरार हो गए। 

वहीं घटना के बाद आम लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. गुस्साए समर्थक अब जमकर बवाल काट रहे हैं. इस बीच वहां पहुंची पुलिस से भी उग्र भीड़ की भिड़त की खबरें आ रही है. अनियंत्रित होती स्थिति को देखते हुए आसपास के कई थानों की पुलिस को बुला लिया गया है. गुस्साए समर्थकों ने शिवाला नौबतपुर सड़क जाम कर बवाल काटना शुरू कर दिया. ऐसी भी खबरें आ रही हैं कि भीड़ ने कुछ पुलिस वालों को बंधक बना लिया है. हालाँकि पुलिस की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की गई है. 

सूत्रों के मुताबिक अपराधियों ने मुखिया को तीन गोली मारी. नीरज के गर्दन में 3 गोलियां लगी थी। मुखिया को गंभीर हालत में उनके समर्थक सगुना मोर के एक निजी हॉस्पिटल ले गए जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया, मुखिया की मौत के बाद समर्थक गुस्से में है। समर्थकों का कहना है अस्पताल ले जाने के दौरान रास्ते में ही मौत हो गई थी। नीरज मुखिया की गोली मार के हत्या की जानकारी मिलते ही परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो रहा है।

    


वहीं नीरज मुखिया को गोली मार हत्या कर देने की जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में समर्थकों की भीड़ फरीदपुर बाजार में सड़क पर उतर गई. भीड़ वहां जमकर हंगामा कर रही है। जानकारी के मुताबिक नौबतपुर से वाला रोड में रामपुर फरीदपुर पंचायत के मुखिया नीरज कुमार फरीदपुर बाजार में सुबह-सुबह अपने दालान पर स्थित कार्यालय के पास लोगों की समस्याओं को सुन रहे थे । ठीक इसी वक्त एक बाइक सवार दो अपराधी वहां पहुंचे और मुखिया पर गोलियों की बौछार कर दी । प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मुखिया के शरीर में 3 गोलियां लगी है । गोली नीरज मुखिया के गर्दन के पास मारे जाने की चर्चा है। आनन-फानन समर्थकों ने मुखिया को स्कॉर्पियो से लादकर पटना हॉस्पिटल में इलाज के लिए ले गए, जहां जहां हॉस्पिटल पहुंचने के पहले ही मुखिया ने दम तोड़ दिया। गोलीबारी में बुरी तरह जख्मी नीरज मुखिया को अत्यंत नाजुक हालात में हाईटेक हॉस्पिटल सगुना मोड़ पहुंचने पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।  

बता दें कि रामपुर फरीदपुर पंचायत से लगातार दूसरी बार नीरज कुमार मुखिया निर्वाचित हुए थे । दुर्भाग्य का पीछा नहीं छोड़ रहा था । जिस दिन मुखिया निर्वाचित हुए थे उस दिन उनके उसी दलाल के पास सड़क दुर्घटना में उनके एकलौते  साले की मौत हो गई थी और फिर आज उसी घटनास्थल पर नीरज मुखिया को अपराधियों ने गोली मार हत्या कर दिया।  इधर गोली मारने की घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया।  बड़ी संख्या में समर्थक उतर कर नौबतपुर से वाला मार्ग को जाम कर बवाल काट रहे हैं. घटनास्थल पर काफी देर तक पुलिस का कोई अता-पता नहीं होने से समर्थकों का गुस्सा फूट पड़ा. उन्होंने सडक जाम कर दिया. समर्थकों का कहना है कि पुलिस प्रशासन को फोन करने के बावजूद कोई रिसीव नहीं कर रहा है। 

वहीँ जानीपुर थानेदार उत्तम कुमार ने कहा कि चुनावी रंजिश को लेकर अपराधियों ने गोली मारी है। पुलिस अपराधियों का पता लगाने में जुटी हुई है । नीरज मुखिया के कार्यालय में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है सीसीटीवी फुटेज में एक बाइक सवार दो अपराधी मुखिया पर गोलीबारी के बाद शिवाला की ओर फरार होते देखे गए।

Find Us on Facebook

Trending News