राजधानी में लग सकता है कचड़े का अम्बार, निगम सफाईकर्मियों ने हड़ताल पर जाने का किया एलान

राजधानी में लग सकता है कचड़े का अम्बार, निगम सफाईकर्मियों ने हड़ताल पर जाने का किया एलान

PATNA : राजधानी पटना एक बार फिर से कूड़े के ढेर से पटने जा रहा है। ऐसा इसलिए कि क्योंकि पटना नगर निगम ने सफाईकर्मियों से जो वादे किए थे, उसे अब तक पूरा नहीं किया है। जिसके बाद अब सभी सफाईकर्मियों ने एक बार बार फिर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की घोषणा कर दी है। 

पटना नगर निगम चतुरवर्गीय कमर्चारी संघ के महासचिव नंद किशोर दास ने कर्मियों 15 सूत्री मांगों को लेकर आगामी 25 फरवरी से हड़ताल पर चले जाने का ऐलान कर दिया है। संघ के अनुसार  24 फरवरी को निगम के चतुर्थवर्गीय कर्मी पटना के मौर्या लोक स्थित निगम मुख्यालय से फ्रेजर रोड तक मशाल जुलूस निकालेंगे। इसके बाद 15 सूत्री मांग को शुक्रवार 25 फरवरी को अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की तैयारी है। 


बातचीत नहीं करना चाहते निगम कमिश्नर

बताते चले कि निगम के महासचिव नंद किशोर दास ने बताया कि बिगत कई दिनों से नगर आयुक्त अभिषेक कुमार परासर वार्ता का समय दे नही मिल रहे है। ऐसे में कर्मियों ने अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने का मन बनाया है।  दरअसल 15 सूत्री मांगों में  दैनिक कर्मियों को नियमित करने ,समान काम समान वेतन भुकतान,मजदूरी में कटौती,कोरोना काल मे किये गए कार्यो का प्रोत्साहन राशि जैसे कई मुद्दे शामिल है। 

वेतन में असमानता का है विरोध

संघ महासचिव नंद किशोर दास की माने तो कर्मियों के वेतन को तीन तरह से भुगतान किया जाता है जिसमे निगम के सरकारी सफाई मजदूरों को 35 हजार, निजी एजेसियों वालों को 14 हजार व दैनिक मजदूरों को 10,400 दिए जाते है। सफाईकर्मी की मांग है कि वेतन में इस असमानता को खत्म किया जाए और सभी मजदूरों को एक समान वेतन दिया जाए।  


Find Us on Facebook

Trending News