भागलपुर में गंगा नदी में मगरमच्छ दिखने से मचा हड़कंप, सर्च अभियान में जुटी वन विभाग की टीम

भागलपुर में गंगा नदी में मगरमच्छ दिखने से मचा हड़कंप, सर्च अभियान में जुटी वन विभाग की टीम

BHAGALPUR : बिहार के बगहा में आठ घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद भले आदमखोर बाघ मारा गया है। लेकिन  भागलपुर में एक बार फिर से मगरमच्छ देखे जाने के बाद लोगों के बीच दहशत का माहौल है। पहले सुल्तानगंज के अजगैवीनाथ गंगा घाट पर मगरमच्छ घूमते रहा। अब कहलगांव के बटेश्वरस्थान के पास गंगा में मगरमच्छ को तैरते देख लोगों के बीच हड़कंप मचा हुआ है। बटेश्वरस्थान गंगा घाट पर रोज भारी तादाद में लोग पहुंचते हैं और गंगा में डूबकी लगाते हैं। 


मगरमच्छ मिलने की चर्चा सोशल मीडिया पर भी लोगों के बीच बनी हुई है। घाट के पास शुक्रवार को बटेश्वरस्थान में पंजाबी घाट से सीढ़ी घाट के पास एक विशालकाय मगरमच्छ को पानी में तैरता देखा गया। गंगा की धार में शुक्रवार को स्थानीय मछुआरों ने देखा। मछुआरे फुचाय सहनी व उदय सहनी ने बताया कि उन लोगों ने मगरमच्छ को पकड़ने का काफी प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली। सीढ़ी घाट के पास मगरमच्छ को देखकर गंगा स्नान कर रहे श्रद्धालुओं में भी हड़कंप मच गया। 

बताया जा रहा है की मगरमच्छ ने सुल्तानगंज में एक व्यक्ति पर हमला बोल दिया था। जब वह नदी में स्नान करने उतरा था। इसी वजह से लोग अब बटेश्वर स्थान में भी गंगा में उतरने से डर रहे हैं। लोग ना तो स्नान करने की हिम्मत लोग जुटा पा रहे हैं और ना ही जल भरने के लिए नजदीक जाने की हिम्मत लोगों में है। बटेश्वरस्थान स्थित पंजाबी घाट से सीढ़ी घाट तक वह दिनभर कई बार पानी की सतह से ऊपर आता फिर अंदर चला जाता है। पिछले चार-पांच दिनों से वह यहां है। 

गुरुवार को भागलपुर-कहलगांव के रेंज पदाधिकारी ब्रजकिशोर सिंह के नेतृत्व में टीम ने घोघा में मगरमच्छ को ढूंढने व पकड़ने का प्रयास किया था। करीब नौ घंटे तक चले सर्च अभियान के बाद भी मगरमच्छ का पता नहीं चला।  मगरमच्छ आने की खबर फैली, तो श्रद्धालुओं ने यहां स्नान करना बंद कर दिया है।

भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News