सीएम नीतीश की शराबबंदी पर समीक्षा का नहीं हुआ असर, उनके ही गृह जिले में ASI और चौकीदार हुए गिरफ्तार

सीएम नीतीश की शराबबंदी पर समीक्षा का नहीं हुआ असर, उनके ही गृह जिले में ASI और चौकीदार हुए गिरफ्तार

NALANDA :   बिहार में शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी पुलिस पर भरोसा जताया है। उन्होंने पुलिस को पूरी छूट प्रदान कर दी है। वह कहीं भी छापेमारी कर सकती है। लेकिन बिहार की पुलिस शराबबंदी को लेकर कितनी गंभीर है, इसका बड़ा उदाहरण खुद सीएम के गृह जिले से सामने आया है। जहां शराब के साथ पकड़े गए एक युवक के पिता से थाने का एएसआई पैसों की मांग कर रहा था। इस पूरी घटना का एक ऑडियो वायरल हो गया, जिसके बाद नालंदा एसपी ने तत्काल एएसआई और एक चौकीदार को गिरफ्तार कर लिया है। 

मामला हरनौत थाने से जुड़ा है, जहां थाने में पदस्थापित एएसआई (ASI) चन्द्रशेखर साह व चौकीदार पुत्र मिंटू पासवान ने शराब को लेकर छापेमारी (Raid) की थी। इस दौरान शैलेश चौधरी नाम के एक युवक को दो लीटर शराब के साथ पकड़ा गया था। लेकिन एएसआई ने युवक को जेल भेजने की जगह उसके पिता छोटू चौधरी से बेटे को छोड़ने के एवज में 12 हजार रुपए की मांग की। साथ ही यह धमकी भी दी कि जल्द ही पैसे का इंतजाम नहीं हुआ तो उनके घर को भी सील कर दिया जाएगा।

पूरी घटना का ऑडियो वायरल

लेकिन यहां एएसआई से एक चूक हो गई। पकड़े गए युवक के पिता से पैसों की मांगने को लेकर जो बातें हुई, वह रिकॉर्ड कर लिया गया और उसे वायरल कर दिया गया। जैसे ही जिले के पुलिस कप्तान के संज्ञान में यह वायरल ऑडियो आया, उन्होंने इसकी जांच कराई। मामले की पुष्टि होते ही एसपी हरी प्रसाथ एस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए हरनौत थाने में पदस्थापित एएसआई चंद्रशेखर साह एवं चौकीदार रामाधीन पासवान के पुत्र मिंटू पासवान को शराब मामले में पैसे मांगने को लेकर गिरफ्तार किया है.


Find Us on Facebook

Trending News