पटना में पकड़ा गया 30 करोड़ का ठग,पत्नी के साथ मिलकर करता था ठगी

पटना में पकड़ा गया 30 करोड़ का ठग,पत्नी के साथ मिलकर करता था ठगी

PATNA : राजधानी पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र से भोपाल के एक बड़े ठग को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार ठग का नाम आकाश दीप है और वह मध्य-प्रदेश के भोपाल में अभिनव प्रयास नामक एनजीओ चलाता है। 

बताया जा रहा है कि वह इस एनजीओ के माध्यम से लोगों को 5 साल में रकम दुगुनी करने का झांसा देकर अबतक तकरीबन 30 करोड़ का चूना लगा चुका है। 

आकाश दीप को उसके ही एनजीओ में काम करने वाले एक कर्मचारी संजय श्रीवास्ताव ने गिरफ्तार कराया है। 

बताया जा रहा है कि संजय श्रीवास्तव जालसाजी के आरोप में जेल गया था। संजय 1 साल तक भोपाल जेल में बंद था। उसका कहना है कि वह निर्दोष है। जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद से वह आकाश की खोज में लगा था। 

इसी खोज के दौरान उसे आकाश दीप पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र के आशियाना में दिखा। जिसके बाद उसने उसे पकड़ राजीव नगर थाना के हवाले कर दिया। 

इस बावत डीएसपी विधि-व्यवस्था डॉ राकेश कुमार ने बताया कि भोपाल पुलिस से संपर्क कर जानकारी ली जाएगी।  बताया जाता है कि कटनी कोर्ट से 2015 में उसकी गिरफ्तारी का वारंट निर्गत हुआ चुका है। ठगी में शामिल आकाश दीप के साथ ठगी के इस खेल में उसकी पत्नी शिखा राय भी शामिल थी। 

एनजीओ में संजय श्रीवास्तव के अलावा राजेश सिन्हा आशीष सिन्हा सिन्हा संदीप श्रीवास्तव एसके महोबिया एस.के दासगुप्ता और हेमंत भार्गव भी काम करते थे।

संजय की मानें तो उसने 1 साल पहले एनजीओ से नाता तोड़ दिया था। बावजूद इसके लोगों ने ठगी का शिकायत किया तो उसे भी अभियुक्त बना दिया। आकाश दीप इन दिनों जगदेव पथ में पहचान बदल कर रहा था। 

संजय ने बताया कि आकाश दीप मुंगेर का रहने वाला है। वह कुछ सालों पहले पत्नी को लेकर भोपाल चला गया था।  वहां उसने अभिनव प्रयास नामक एन जी ओ खोला। उसने भोपाल के सभी जिलों के लोगों को लुभावनी   स्कीम में निवेश करने का झांसा देकर सैंकड़ों लोगों से 30 करोड़ की ठगी करने के बाद फरार हो गया था। 

कुंदन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News