इस कंट्री ने गांजा रखना और खेती करने को किया लीगल, अब तक सिर्फ दो देशों में ही मिली है मान्यता

इस कंट्री ने गांजा रखना और खेती करने को किया लीगल, अब तक सिर्फ दो देशों में ही मिली है मान्यता

DESK : भारत सहित दुनिया के ज्यादातर देशों में गांजा रखना अवैध है। कई देशों में इसको लेकर कड़े कानून बनाए गए हैं। वहीं कुछ देश ऐसे भी हैं, जहां गांजे की खेती करने और उसे रखने को लीगल घोषित कर दी है। ऐसे ही देशों में अब थाइलैड भी शामिल हो  गया है। अब थाईलैंड में गांजा रखना और उसकी खेती करना लीगल कर दिया गया है। गुरुवार को सरकार ने इसे वैध करने की घोषणा की है।  

सिर्फ दो देशों में है मान्यता

गांजा को मान्यता देनेवाला एशिया का पहला देश बन गया है। दुनिया में थाईलैंड से पहले सिर्फ दो देशों ने इसे लीगल घोषित किया हुआ है। यह दो देश उरुग्वे और कनाडा है। अब इसमें थाईलैंड भी शामिल हो गया है। 

10 लाख पौधे बांटेगी सरकार

गांजा रखने को वैध घोषित करने के बाद अब बताया जा रहा है कि थाइलैंड के स्वास्थ्य मंत्री खेती के लिए 10 लाख गांजा के पौधे वितरित करने वाले हैं। इससे ऐसी छवि बन रही है कि थाइलैंड नशेडि़यों के लिए जन्नत बन जाएगा। हालांकि, थाइलैंड सरकार ने स्पष्ट किया है कि वह केवल चिकित्सा में उपयोग के लिए गांजा को बढ़ावा दे रही है। गैर-अपराधीकरण के परिणामस्वरूप, मारिजुआना और भांग उत्पादों को उगाना और उनका व्यापार करना, या दवा के रूप में पौधे के कुछ हिस्सों का उपयोग करना अब अपराध नहीं है।

ध्रूमपान पर अब भी प्रतिबंध

मरीजुआना को लीगल करने को लेकर थाईलैंड की सरकार ने कहा कि इसके सार्वजनिक रूप से धूम्रपान करना अभी भी वर्जित रहेगा। इसे सार्वजनिक रूप से लेने पर उपद्रव के श्रेणी में लिया जाएगा। इसके साथ ही ऐसा करते हुए पाए जाने पर उन्हें 3 महीने की सजा और 25000 थाई बहत (करीब 780 डॉलर) जुर्माना लगाया जाए


Find Us on Facebook

Trending News