यह बिहार पुलिस है भई! यहां के सिपाही भी दो दर्जन ट्रक और आलिशान बंगले के होते हैं मालिक, संपत्ति इतनी कि बड़े बड़े पुलिस अधिकारी भी इनके आगे पड़ जाते हैं फीके

यह बिहार पुलिस है भई! यहां के सिपाही भी दो दर्जन ट्रक और आलिशान बंगले के होते हैं मालिक, संपत्ति इतनी कि बड़े बड़े पुलिस अधिकारी भी इनके आगे पड़ जाते हैं फीके

PATNA : बिहार पुलिस का एक सिपाही करोड़पति निकला। संपत्ति इतनी कि उसके आगे बड़े बड़े पुलिस अधिकारी भी फीके पड़ जाएं। मंगलवार को आर्थिक अपराध शाखा की छापेमारी में बिहार के इस सिपाही के पास इतनी प्रॉपर्टी की जानकारी सामने आई है कि जांच में जुटे अधिकारी भी हैरान रह गए। प्रारंभिक जानकारी में सिपाही के पास दो दर्जन से ज्यादा ट्रक और पटना में आलीशान बंगले की बात सामने आई है। इसी बंगले में आज छापेमारी की जा रही है।

इस सिपाही का नाम है नरेंद्र कुमार धीरज। बिहार पुलिस में इसकी संख्या 2187, जो उनकी पुलिस बैच पर नजर आती है। लेकिन नरेंद्र कुमार धीरज की पहचान यह नहीं है, वह बिहार पुलिस मेंस एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष हैं। मतलब यह कि सूबे के सभी पुलिसकर्मियों के संगठन के बॉस। अब इस बॉस के पद के पर बैठने के पुलिसकर्मियों के अधिकारों की लड़ाई के भले ही कुछ नहीं किया हो, लेकिन अपने नाते रिश्तेदारों से साथ जमकर संपत्ति अर्जित की। अब पुलिसकर्मियों के संगठन के बॉस के अवैध संपत्ति की जो सच्चाई सामने आई है। उसके बाद यह यकीन करना मुश्किल है कि एक सिपाही के पास इतनी संपत्ति कैसै हो सकती है।


25 से ज्यादा ट्रक और आलीशान बंगले

अभी तक जो जानकारी सामने आई है, उसके अनुसार सिपाही के 25 से ज्यादा ट्रक चलते हैं। यूपी के सीमाओं पर चलनेवाले ट्रकों पर उनकी गहरी पैठ बनाई जाती है। इसके अलावा उसके पास कई आलीशान बंगले होने की बात कही जा रही है। EoU की तरफ से जानकारी दी गई है कि पटना जिला बल का भ्रष्ट सिपाही अपने पद का दुरुपयोग कर स्वयं एवं अपने परिजनों के नाम पर करोड़ों की परिसंपत्ति अर्जित की है। जो उनके लोकसेवक अवधि में प्राप्त आय से काफी अधिक है।

एक साथ नौ ठिकानों पर की जा रही है छापेमारी

पुलिस मेंस एसोसिएशन के अध्यक्ष के नौ ठिकानों पर आज ईओयू ने एक साथ रेड किया है।  जिन जगहों पर छापेमारी की जा रही है उनमें पटना के महावीर कॉलोनी बेऊर स्थित धीरज का आवास, भोजपुर के सहार थाना क्षेत्र के मुजफ्फरपुर गांव में पैतृक आवास, अरवल में अरोमा होटल के सामने अवस्थित मकान जो भाई का है। वही आरा शहर में भाई सुरेंद्र सिंह के कृष्णा नगर स्थित चार मंजिला मकान और दूसरा 5 मंजिला मकान। एक और भाई विजेंद्र कुमार विमल के आरा शहर स्थित कृष्णा नगर स्थित पांच मंजिला मकान, एक और भाई श्याम बिहारी सिंह का आरा स्थित मॉल आवासीय मकान, भतीजा धर्मेंद्र कुमार का आरा में आशुतोष ट्रेडर्स नाम की दुकान, एक और भाई सुरेंद्र कुमार सिंह के नारायणपुर आरा अवस्थित छड़ सीमेंट की दुकान एवं आवास शामिल है।

Find Us on Facebook

Trending News