डिप्टी सीएम के इलाके का यह हाल : न पुल पूरा हुआ, न ही बनाया एप्रोच रोड, अब ग्रामीणों को सता रहा है 'जल कैदी' बनने का डर

डिप्टी सीएम के इलाके का यह हाल : न पुल पूरा हुआ, न ही बनाया एप्रोच रोड, अब ग्रामीणों को सता रहा है 'जल कैदी' बनने का डर

कटिहार नगर विधानसभा को लालीयाही मोहल्ले के बांध से होकर कोढ़ा विधानसभा के देवकली और पेकहा गांव तक जोड़ने वाली बहुप्रतीक्षित पुल का निर्माण अब तक पूरा नहीं हो सका है। वहीं निर्माण कंपनी की लापरवाही ऐसी कि इस अधूरे पुल के साथ एप्रोच रोड का भी निर्माण नहीं किया गया है। स्थिति यह है कि बारिश के कारण अब लोग कीचड़ और पानी से भरे रास्ते से गुजरने को मजबूर हैं। यह स्थिति तब है जब यहां के विधायक प्रदेश डिप्टी सीएम हैं।

बताया गया कि जब इस पुल का निर्माण शुरू किया गया तो इलाके के लोगों को उम्मीद थी कि इससे उनके विकास के रास्ते का सफर तेजी से पूरा होगा। लेकिन समय पूरा होने के लगभग चार माह अधिक समय बाद इसका निर्माण अधूरा है।  पुल के निर्माण पर तीन करोड़ साठ लाख की राशि खर्च होनी है। यहां रहनेवाले लोगों का कहना है उनकी समस्या पुल का अधूरा होना नहीं है। वब यह बात मानते हैं कि पहले चार महीने से अधिक यह इलाका पानी के जद में रहने और लॉकडाउन के कारण काम अब तक पूरा नहीं हो पाया है। उनका कहना है पुल का निर्माण कुछ समय देर से ही पूरा हो जाएगा। समस्या पुल के साथ कोई एप्रोच रोड नहीं होना है। 

लोगों का कहना है कि इसके एप्रोच पथ को लेकर कोई काम नहीं की गई है, लोगों कहा कहना है हर साल यह इलाका बाढ़ में डूब जाता है। अगर वैकल्पिक रास्ते के रूप में एप्रोच रोड का निर्माण होता तो काफी हद तक लोगों को बाढ़ में जल कैदी बनकर रहने से मुक्ति मिल जाती। लोग एक बार फिर परेशान हैं क्योंकि लगभग तीन हज़ार के आबादी को फिर कई महीने तक जल कैदी बनकर रहना पड़ेगा, पुल निर्माण से उत्साह के बावजूद एप्रोच पथ नहीं बनने से परेशान लोगों अपनी परेशानी बया करते हुए जल्द इसका निर्माण सुनिश्चित करवाने की मांग कर रहे है।


Find Us on Facebook

Trending News