इस गायिका ने गाया ऐसा गाना, आयोजकों ने बाल्टी भरकर कर दी नोटों की बारिश, वायरल हो रहा है वीडियो

इस गायिका ने गाया ऐसा गाना, आयोजकों ने बाल्टी भरकर कर दी नोटों की बारिश, वायरल हो रहा है वीडियो

DESK : पैसों की बारिश होना, हर आम इंसान का सपना होता है, लेकिन कुछ गिने चुने हुए लोगों का ही यह सपना पूरा होता है। लेकिन क्या हो जब वो पैसों की बारिश आपके ऊपर हो. गुजरात के अहमदाबाद में ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिला. यहां तुलसी विवाह पर आयोजित कार्यक्रम में एक लोक गुजराती लोक गायिका ने अपने गाने से ऐसा समां बांधा कि आयोजकों ने उस पर बाल्टी भर-भरकर नोटों की बारिश कर दी। वहीं दर्शकों की तरफ से नोटों के बंडल स्टेज की तरफ उछाले जा रहे थे। पूरा स्टेज नोटों से भरा हुआ दिख रहा था। नोटों की इस बारिश का एक वीडियो खुद लोक गायिका ने अपने इंस्टाग्राम पर शेयर किया है। 


इस गुजराती लोक गायिका का नाम है उर्वशी रादादिया। जो कि फेमस गुजराती फोक सिंगर हैं. उन्हें काठियावाड़ (Kathiawar) की cuckoo के नाम से भी जाना जाता है। बीते दिनों वह अहमदाबाद में हीरावाड़ी ग्रुप द्वारा तुलसी विवाह पर आयोजित कार्यक्रम में अपनी प्रस्तुति दे रही थीं। इस दौरान उर्वशी ने अपने गाने से आयोजकों सहित दर्शकों का जमकर मनोरंजन किया। जिसके बाद वह हुआ जो कि किसी सपने की तरह था। स्टेज पर बैठी उर्वशी के चारों तरफ सिर्फ 20, 50, 100, 200 और 500 के नोट बिखरे हुए थे। वहीं एक व्यक्ति बार बार एक बाल्टी में नोट भरकर उर्वशी के ऊपर गिरा रहा था। हवा में नोट ऐसे उछल रहे थे, जैसे की रूई उड़ रही हो।

उर्वशी ने खुद किया वीडियो शेयर

तुलसी विवाह पर हुए कार्यक्रम का वीडियो खुद उर्वशी ने अपने इंस्टाग्राम पर शेयर किया है। जिसके साथ ही उन्होंने आयोजकों और दर्शकों द्वारा दिए प्यार के लिए धन्यवाद अदा किया है। उर्वशी ने लिखा है कि ‘श्री समस्त हीरावाड़ी ग्रुप द्वारा तुलसी विवाह का आयोजन किया गया है, जिसमें लोकदैरा का आयोजन किया गया. आपके अमूल्य प्यार के लिए आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद’

उर्वशी रादादिया फेमस गुजराती फोक सिंगर हैं. उन्हें काठियावाड़ (Kathiawar) की cuckoo के नाम से भी जाना जाता है. वे अपने गाने 'नगर नंद जी ना लाल' सॉन्ग के लिए फेमस हैं. उर्वशी की गिनती टॉप गुजराती सिंगर्स में होती है. उन्होंने अपने म्यूजिक करियर की जर्नी 6 साल की उम्र में शुरू कर दी थी. उर्वशी बचनप से IAS बनने का सपना देखती थीं. लेकिन परिवार की जिम्मेदारी संभालने की वजह से उनकी ये ख्वाहिश अधूरी रह गई. उर्वशी हिंदी, पंजाबी, मराठी, राजस्थानी में भी सिंगिंग करती हैं. उनका मानना है कि आज जो कुछ भी हैं वह अपने गाने की वजह से हैं।

Find Us on Facebook

Trending News