इस बार शहर के किसी भी चर्च में नही जला पाएंगे कैंडल,ओमिक्रोन ने छीनी खुशियां

इस बार शहर के किसी भी चर्च में नही जला पाएंगे कैंडल,ओमिक्रोन ने छीनी खुशियां

BHAGALPUR :  25 दिसंबर को होने वाले क्रिसमस की उमंग पर इस बार फिर विराम लग गया है उमंग और आस्था की बही बयार इस बार लोगों को देखने नहीं मिलेगी। 25 दिसंबर को सुबह से ही गिरजाघरों में लोगों का पहुंचने का सिलसिला शुरू हो जाता था। शायद इस बार भी लोग गिरजाघर पहुचंगे। लेकिन इस बार भी उन्हें गेट के बाहर ही केंडल जला कर लौटने पड़ेंगे। 

फादर थॉमस ने बताया कि ईसाई भाइयों के लिए गिरजाघर खुले रहेंगे। बाहर से आने वाले लोगो पर रोक रहेगी। यह निर्णय ओमिक्रोन के तीसरे लहर को देखते हुए  लिया गया है। इस बार क्रिसमस भव्य तरीके से नहीं मनाया जाएगा। फादर ने यह भी कहा कि समाज मे शांति व सद्भाव कायम रहे ,इसको लेकर वो प्रभु यीशु से प्रार्थना करेंगे । लोगो से भी आपस मे प्रेम बनाये रखने की अपील की । क्योकि क्रिसमस आपसी प्रेम व सद्भाव का संदेश देता है । 

चर्च जाने वाले युवक व युवतियों के चेहरे पर छाई मायूसी 

इस बार कचहरी चौक स्थित बेनेडिक्ट चर्च को आकर्षक बनाया गया है । चर्च जाने वाले लोग इस बार इस भव्य चर्च को देखने के इंतजार में थे। जो अब पूरा नही हो पायेगा। सिकन्दरपुर के रहने वाले राहुल कुमार ने बताया कि इसबार चर्च को भव्य बनाया गया था जिसको देखने की चाहत थी , सेल्फी भी लेने की चाहत थी । लेकिन इसबार इसको बन्द रखा जाएगा । वहीं नाथनगर की सोनाली कुमारी ने बताया कि इसबार चर्च में सेल्फी लेने की चाहत थी जो अब नही ले पाएंगे।


Find Us on Facebook

Trending News