सुशील मोदी को जान से मारने की धमकी, JDU ने अमित शाह से मिलने की दी सलाह

सुशील मोदी को जान से मारने की धमकी, JDU ने अमित शाह से मिलने की दी सलाह

पटनाः पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को जान से मारने की धमकी दी गई है। धमकी भरे पत्र में लिखा गया कि 31 सितंबर के पहले मैं आपकी हत्या कर दूंगा. पत्र में उसने अपना नाम और पता का भी जिक्र किया है। धमकी भरा पत्र मिलने के बाद पूर्व डिप्टी सीएम ने उसे पटना एसएसपी के पास भेज दिया है। धमकी भरे पत्र मिलने के बाद राजनीति भी शुरू हो गई है। जेडीयू ने कहा है कि अपनी उपयोगिता साबित करने लिए यह सब हथकंडा अपना रहे।

अमित शाह से मिलें सुशील मोदी  

बिहार प्रदेश जनता दल यूनाइटेड के प्रदेश प्रवक्ता अरविंद निषाद ने राज्यसभा सांसद सुशील मोदी के हत्या की धमकी भरे पत्र पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सुशील मोदी अपनी उपयोगिता एवं सक्रियता साबित करने के लिए मीडिया के डार्लिंग बने हुए हैं। सुशील मोदी को धमकी भरे पत्र प्राप्त होने के बाद मीडिया में बयान देने के बजाय उन्हें गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करनी चाहिए। दशकों पूर्व सुशील मोदी पटना में छात्रों के आंदोलन में हुए लाठीचार्ज के बाद अपने सर में बैंडेज बांध कर डाक बंगला चौराहे पर प्रदर्शन करते हुए कहा कि पुलिस ने मेरी हत्या की नियत से बर्बरता पूर्वक लाठी से प्रहार किया। 

लालू प्रसाद की चुनौती पर घऱ चले गये थे

अरविंद निषाद ने कहा कि तब सुशील मोदी के इस बयान के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने उन्हें चुनौती भरे शब्दों में कहा कि सुशील मोदी अपने सर पर से पट्टी हटा कर दिखा दे की पुलिस लाठी चार्ज में उन्हें चोट लगी है, तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगा। लालू प्रसाद के चुनौती का सामना करने के बजाय सुशील मोदी अपने घर चले गए।  सुशील मोदी हमेशा अपनी प्रासंगिकता बनाए रखने के लिए हत्या धमकी का इस्तेमाल करते रहते हैं। जनता और भाजपा इन्हें अब नोटिस नहीं कर रही है।

Find Us on Facebook

Trending News