जेल में बंद कुख्यातों से जेलर को मिल रही धमकी, कारा मुख्यालय से मांगी अतिरिक्त सुरक्षा

जेल में बंद कुख्यातों से जेलर को मिल रही धमकी, कारा मुख्यालय से मांगी अतिरिक्त सुरक्षा

BHAGALPUR : प्रदेश के सबसे सुरक्षित माने जाने वाले भागलपुर सेंट्रल जेल के जेलर और कर्मचारियों को कैदियों से लगातार धमकी मिल रही है। जिसके बाद जेलर ने तिलकामांझी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। वहीं कारा मुख्यालय से अतिरिक्त सुरक्षा की मांग की है। 

बताया जा रहा है कि चुनावके मद्देनजर सप्ताह दिन के अंदर भागलपुर सेंट्रल जेल में प्रदेश के कई  जेलों से करीब 125 कुख्यातों को यहां ट्रांसफर किया गया है। इन कैदियों में नवादा से राजद के पूर्व विधायक राजबल्लभ यादव, पटना से एमएलसी रीतलाल यादव और सीवान जेल से रईस खान समेत अन्य कुख्यात शामिल हैं। सभी को अतिसुरक्षित तृतीय खंड के अंडा सेल में रखा गया है। कुख्यातों की सुरक्षा जेल प्रशासन के लिए मुसीबत बन गई है। 

वार्ड में कम पड़ रहे है जगह

मिली जानकारी के अनुसार सूबे से लगातार ट्रांसफर होकर आ रहे कुख्यातों के कारण तृतीय खंड में जगह कम पड़ गई है। पहले से वहां पर रखे गए गए कुख्यातों प्रथम खंड में शिफ्ट किया जा रहा है। अभी सौ कुख्यातों के ट्रांसफर होकर भागलपुर आने की संभावना है। पांच कैदियों वाले वार्ड में दस-दस कैदी रखे गए हैं। 

छोटी-छोटी बातों पर विवाद: 

जेल में तैनात बीएमपी को चुनाव ड्यूटी में भेज दिया गया है। कक्षपाल, सैप और होमगार्ड जवानों को सुरक्षा ड्यूटी में लगाया गया है। लेकिन कुख्यात कैदी छोटी-छोटी बात को लेकर जेल और कक्षपालों से भीड़ जा रहे हैं। 

कक्षपाल से लेकर जेलर तक को धमकी 

वहीं इनके द्वारा जेलर से लेकर कक्षपाल तक को धमकी दी जा रही है। जिसके बाद जेलर के लिखित बयान पर कैदी के खिलाफ तिलकामांझी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। वहीं जेल प्रशासन ने कारा मुख्यालय से अतिरिक्त सुरक्षा की मांग की है। 

Find Us on Facebook

Trending News