पुलिस के हत्थे चढ़े तीन किडनैपर, 20 लाख की मांगी थी फिरौती

पुलिस के हत्थे चढ़े तीन किडनैपर, 20 लाख की मांगी थी फिरौती

पटना पुलिस को अहम कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने तीन अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। अपहृत रामजनम को सकुशल बरामद कर उन्हें उनके घर पहुंचा दिया गया है। सीनियर एसपी मनु महाराज ने बताया कि गिरफ्तार अपहरणकर्ताओं के पास से तीन मोबाइल, एक बाइक व अन्य कई संदिग्ध सामान बरामद किए गए हैं। एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि तीनों किडनैपरों में से दो पर पहले से रंगदारी और मर्डर का केस दर्ज है। उन्होंने बताया कि इनका सरगना नेताजी के नाम से कुख्यात है। इस पूरे प्रकरण में रामजनम के बारे में भी कई बातों का पता चला। एसएसपी ने बताया कि रामजनम प्रोपर्टी का काम करने के साथ ही नौकरी दिलाने के नाम पर भी मार्केट से पैसा उठा रखा था। दरअसल जिन लोगों से रामजनम ने पैसा उठा रखा था, उन्हीं लोगों ने रामजनम का अपहरण कर किसी प्रोफेशनल गैंग को सौंप दिया था। उन्होंने बताया कि बेऊर थाना के रहनेवाले रामजनम 28 मई को अपने घर से कहीं बाहर जाने के लिए निकले थे लेकिन फिर लौटकर घर नहीं आये। बेटे रोहित ने सब जगह खोजा लेकिन उनका कहीं पता नहीं चला। थक-हार कर रोहित ने 30 मई को बेऊर थाना में अपने पिता रामजनम के अपहरण का केस दर्ज कराया। 

THREE-KIDNAPERS-ARRESTED-BY-PATNA-POLICE2.jpg

केस दर्ज होते ही मनु महाराज ने पूरे मामले की जानकारी ली और एसपी वेस्ट के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया, जिसमें फुलवारीशरीफ के डीएसपी के साथ ही बेऊर थाना के इंस्पेक्टर सहित कई तेजतर्रार पुलिसकर्मी शामिल थे। इसी बीच 30 मई को ही रोहित के मोबाइल पर उसके पिता के मोबाइल से एक अपहरणकर्ता फोन करता है और 20 लाख रुपये की फिरौती मांगता है। इधर, पुलिस ने रोहित के पिता रामजनम के मोबाइल को सर्विलांस पर डाल रखा था। पता चलता है कि फोन नवादा से आया था। आनन-फानन में टीम नवादा पहुंचती है और गोविंदपुर में छापा मारकर किडनैपर आलोक कुमार और रविंद्र यादव को दबोच लिया जाता है। दोनों से कड़ाई से पूछताछ की जाती है। आखिरकार दोनों पुलिस के सामने घुटने टेक देते हैं और रामजनम को जहां छिपाकर रखा गया था, वहां का पता बता देते हैं। रामजनम को किडनैपरों ने गांव सरकंडा खिड़की में छिपा रखा था। वहां राणा प्रताप नाम का किडनैपर रामजनम को अपने कब्जे में कर रखा था। अचानक पुलिस टीम को देखकर वह भौंचक्का रह जाता है। इस तरह पुलिस तीनों किडनैपरों को गिरफ्तार कर पटना ले आती है और जरूरी कानूनी कार्रवाई कर उन्हें जेल भेज दिया जाता है।

Find Us on Facebook

Trending News