अरवल में जाप जिलाध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी से दिया इस्तीफा, पप्पू यादव पर टिकट बेचने का लगाया आरोप

अरवल में जाप जिलाध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी से दिया इस्तीफा, पप्पू यादव पर टिकट बेचने का लगाया आरोप

ARWAL : अरवल में जन अधिकार पार्टी के जिला अध्यक्ष सुबोध यादव ने अपने पूरे कार्यकारिणी सदस्यों के साथ  पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. इस बात की जानकारी जन अधिकार पार्टी के जिला अध्यक्ष सुबोध यादव ने प्रेस वार्ता कर दी. उन्होंने कहा कि जाप सुप्रीमो पप्पू यादव जिनमें अरवल के नौजवान अपना श्रद्धा रखते हैं. उन्होंने अरवल की जनता को अपमानित करने का काम किया. 

चुनाव के समय बिहार बदलने की बात करने वाले जाप सुप्रीमो देश बेचने वाले मोदी और अमित शाह से भी बड़ा व्यापारी साबित हुए. जो लोग पार्टी गठन से पहले से भी पप्पू यादव के साथ 2014 से युवा शक्ति के समय से ही अरवल में गठन और संघर्ष को संचालित करते हुए उनके पार्टी को मजबूत करने का काम किया. उसे भी उन्होंने अपमानित करने का काम किया और जो लोग चुनाव के समय टिकट के लोभ में पार्टी में शामिल हुए. 

उन्होंने चंद रुपयों का लालच देकर अपने आप को जाप का भावी प्रत्याशी ही नहीं बल्कि प्रत्याशित घोषित कर दिया गया. इसके लिए पार्टी के तरफ से कोई भी सूचना किसी भी कार्यकर्ताओं को नहीं दिया गया. इसलिए पप्पू यादव पर पार्टी का टिकट बेचने का आरोप लगाता हूं. उन्होंने एक मायावी राक्षस के जैसा अरवल के जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ व्यवहार करने का काम किया है. 

सुबोध यादव ने कहा कि किसी भी आंदोलन में उनके साथ अरवल से काफिले लेकर पटना विधानसभा का घेराव करने के लिए अपने कार्यकर्ताओं के साथ अनेकों आंदोलन में भाग लिए. अपने कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस के द्वारा लाठी भी खाने का काम किया. फिर भी उन्होंने मेरे साथ और मेरे कार्यकर्ताओं को अपमानित करने का काम किया. इस अवसर पर किसान प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष अरुण कुमार, गौतम राजवंशी, वरिष्ठ नेता सुनील कुमार, मुकेश कुमार एवं सैंकड़ो कार्यकर्ता मौजूद रहे. 

अरवल से विश्वनाथ कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News