बेटे-बहू की प्रताड़ना से तंग शिक्षक ने उठाया भयानक कदम, आईजी ऑफिस के सामने सल्फास खाकर दी जान

बेटे-बहू की प्रताड़ना से तंग शिक्षक ने उठाया भयानक कदम, आईजी ऑफिस के सामने सल्फास खाकर दी जान

MUZAFFARPUR : जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां अपने ही बेटे और बहू की प्रताड़ना से तंग आकर एक शिक्षक द्वारा सुसाइड कर लिया गया। घटना के बाद पुलिस मृतक के पास बरामद सुसाइड नोट के आधार पर मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई कर रही है। 

घटना के संबंध में बताया गया है कि आईजी कार्यालय के सामने शुक्रवार को दिनदहाड़े वीरेन्द्र कुमार नामक शिक्षक ने सल्फास खा ली। सल्फास खाने के बाद वह काफी देर तक सड़क पर छटपटाते रहे। इसी दौरान पुलिस की उनपर नजर पड़ी। आनन-फानन में पुलिस ने उन्हें एसकेएमसीएच ले गई, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 

बताया जा रहा है कि वीरेन्द्र सकरा के रामीरामपुर गांव के रहने वाले थे। उनकी जेब से पुलिस को सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उन्होंने बेटे-बहू पर प्रताड़ित और मारपीट करने का आरोप लगाया है। .

डीएम के नाम से लिखे  बेहद मार्मिक सुसाइड नोट में शिक्षक ने लिखा है कि ‘मैं अपने बड़े बेटे मधुसूदन आनंद और उसकी पत्नी पूजा आनंद से सात साल से मार खा रहा हूं। मधुसूदन का ससुर मनोज राय भी मुझे मारता है। लगातार मार व प्रताड़ना से तंग आकर मैं जान दे रहा हूं। मेरी मौत के बाद मेरी पत्नी की देखरेख का भार आप पर ही रहेगा।' नोट पर पांच जुलाई का जिक्र है। साथ ही आधा नोट नीला व आधा लाल बॉल पेन से लिखा है। 

इस बावत आईजी गणेश कुमार ने बताया कि पुलिस ने शिक्षक को तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन स्थिति गंभीर होने के कारण उनकी मौत हो गई। उनके पास एक सुसाइड नोट मिला है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। 

Find Us on Facebook

Trending News