सरकारी स्कूल के छात्र-छात्राओं को पुस्तक उपलब्ध कराने को ले विभाग की नई तरकीब, काउंटर खोलने की कवायद शुरू

सरकारी स्कूल के छात्र-छात्राओं को पुस्तक उपलब्ध कराने को ले विभाग की नई तरकीब, काउंटर खोलने की कवायद शुरू

PATNA : सरकारी स्कूलों के शिक्षा में गुणात्मक सुधार के लिये सरकार के द्वारा लगातार प्रयास किये जा रहे है। इसी के तहत प्रत्येक छात्रों को किताब उपलब्ध कराने की योजना भी बनाई गई थी। इस योजना के तहत सभी बच्चों को किताब खरीदने के उनके खाते में सीधे राशि उपलब्ध कराई गई। लेकिन राशि उपलब्ध कराने के बाद भी काफी बच्चों के पास पुस्तक उपलब्ध नहीं है।

दरअसल बच्चों को किताब के लिए उपलब्ध कराई गई राशि का उपयोग किताब खरीदने में नहीं किया गया है। अभिभावकों के द्वारा किताब खरीदने में रुचि नही दिखाए जाने की वजह से अभी काफी बच्चों के पास कोर्स का किताब उपलब्ध नहीं है, जिससे पढ़ाई में तो परेशानी हो ही रही साथ ही गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने की योजना पर भी पानी फिर रहा है। 

शिक्षा विभाग के बैठक में ये बाते सामने निकल के बाद यह निर्णय लिया गया है कि बुक सेलर्स के द्वारा सीधे सीआरसी को किताब उपलब्ध करवाया जाए। काउंटर पर किताब उपलब्ध होने पर स्कूल के प्राधानाध्यापक के द्वारा अभिभावकों को सूचना उपलब्ध करा दी जाएगी कि किताब सीआरसी केंद्र पर उपलब्ध करवा दी गयी है। इसके बाद अभिभावक अपने बच्चों के लिये किताब खरीद सकेंगे।

मतलब साफ है अब किताब की खरीद के लिए राशि नहीं मिलेगी। किताब का काउंटर सीआरसी में ही खोल जाएगा और वहीं से गार्जियन किताब ले पाएंगे।

Find Us on Facebook

Trending News