समाज में अपनी प्रतिष्ठा बचाने के लिए पिता बन गया हत्यारा, बेटी की हत्या कर लाश नदी किनारे फेंका, एक सप्ताह बाद सुलझी हत्या की गुत्थी

समाज में अपनी प्रतिष्ठा बचाने के लिए पिता बन गया हत्यारा, बेटी की हत्या कर लाश नदी किनारे फेंका, एक सप्ताह बाद सुलझी हत्या की गुत्थी

JAHANABAD : बीते 26 जून को नगर थाना क्षेत्र के दरधा नदी के पास बरामद युवती की लाश की गुत्थी पुलिस ने सुलझा दी है। पुलिस के अनुसार युवती की हत्या उसके पिता ने ही की थी, जिसके बाद शव को नदी किनारे फेंक दिया। उस समय शव की पहचान नहीं हो सकी थी, लेकिन, मृतका की पहचान होते ही मौत के पीछे छिपा सारा रहस्य खुलकर सामने आ गया। पुलिस ने इसे ऑनर कीलिंग से जुड़ा मामला बताया है। 

इस हत्याकांड के रहस्य से परदा हटाते हुए एसपी दीपक रंजन ने मृतका की पहचान शकुराबाद थाना क्षेत्र के परसन बिगहा निवासी रामदेव यादव की पुत्री रेशमी कुमारी (20) के रूप में की गई थी। उसकी शादी पिछले वर्ष गया जिले के टेकारी थाना क्षेत्र के छक्कन बिगहा निवासी सूचित कुमार के साथ हुई थी। लेकिन शादी के चार-पांच दिन के बाद हीं वह अपने मायके चली आई थी। एसपी ने बताया कि अनुसंधान के क्रम में यह सामने आया है कि मृतका रेशमी कुमारी का प्रेम संबंध शकुराबाद थाना क्षेत्र के ही फौलादपुर निवासी दुलारचंद यादव से चल रहा था।

गांव वालों ने दोनों को एक साथ पकड़ा था 

एसपी ने बताया कि हत्या के दस दिन पहले फौलादपुर के ग्रामीणों ने रेशमी तथा दुलारचंद को पकड़ा था। जिसके बाद उन्हें उनके परिजनों को सौंप दिया था। समाज में इस तरह बदनामी को रेशमी के परिवार ने अपनी प्रतिष्ठा से जोड़ लिया और इस भयानक हत्याकांड की घटना को अंजाम दिया।

एसपी ने बताया कि लड़की के पिता ने अपने अन्य सहयोगियों के साथ इस पूरे घटनाक्रम को अंजाम दिया है। उन्होंने कहा कि युवती को दरधा नदी के किनारे ले गए। वहां  लोहे के रॉड,फंसुली आदि से वार कर उसकी हत्या कर दी और शव को उसी जगह फेंक दिया गया। इस घटना में शामिल मृतका के पिता रामदेव यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है।


Find Us on Facebook

Trending News