आज होगा श्रीकृष्ण सेतु सह मुंगेर रेल सह सड़क पुल का लोकार्पण, अब मुंगेर-खगड़िया के बीच 127 नहीं, सिर्फ 25 किमी की की दूरी

आज होगा श्रीकृष्ण सेतु सह मुंगेर रेल सह सड़क पुल का लोकार्पण, अब मुंगेर-खगड़िया के बीच 127 नहीं, सिर्फ 25 किमी की की दूरी

KHAGDIA/MUNGER : एक पुल जिसके बनने के इंतजार में एक पूरी पीढ़ी जन्म से लेकर वोट देने के लायक हो गई। वह पुल आज आखिरकार बनकर तैयार हो गया है और आज उस पुल को जनता को समर्पित कर दिया जाएगा। 19 साल 1 महीना 16 दिन का लंबे इंतजार के बाद सीएम नीतीश कुमार व केंद्रीय परिवहन मंत्री गंगा नदी पर बने श्री कृष्ण सेतु सह मुंगेर रेल सह सड़क पुल का लोकार्पण करेंगे। 

2007 में बनकर तैयार होना था

बता दें कि इस पुल का शिलान्यास 19 वर्ष पूर्व 26 दिसंबर 2002 को तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के द्वारा किया गया था। जिसे 921 करोड़ रुपये की लागत से वर्ष 2007 में बनकर तैयार होना था। परंतु बाद में पुल के एलायमेंट में हुए परिवर्तन एवं अन्य बाधाओं के कारण 19 वर्ष से अधिक का समय लग गया। वहीं लागत भी बढ़कर तीन गुनी हो गई। 19 साल में तैयार हुए पुल की कुल 2777 करोड़ रुपए है। मुंगेर के गंगा नदी पर बने इस पुल का नामकरण बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह (श्रीबाबू) के नाम पर रखा गया है। जिसे श्रीकृष्ण सेतु के नाम से जाना जाएगा।

यह है पुल की खासियत

गंगा पर निर्मित रेल सह सड़क पुल की कुल लंबाई 3.75 किमी है। जबकि इससे जुड़नेवाले एप्रोच पथ अर्थारत एनएच 333 की लंबाई 14.517 किमी है। मुंगेर की एप्रोच पथ की लंबाई 9.394 किमी व खगड़िया की ओर एप्रोच पथ की लंबाई 5.198 किमी  है। सिर्फ इन एप्रोच पथ के निर्माण पर ही 696 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं।  जिसमें निर्माण पर 227 करोड़ व जमीन अधिग्रहण पर 419 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। 

154 नहीं सिर्फ 25 किमी की दूरी

इस पुल के बनने का सबसे बड़ा फायदा खगड़िया और मुंगेर जिले के लोगों को मिलेगा। दोनों जिलों की दूरी पहले 154 किलोमीटर थी, जिसमें भागलपुर से होकर गुजरना पड़ता था। लेकिन अब यह सिर्फ 25 रह जाएगी। जिसमें 18 किलोमीटर सिर्फ पुल का है। दोनों जिले के लोग यह दूरी पांच घंटे में तय करने की जगह सिर्फ आधे घंटे में तय कर सकेंगे।

यह है पूरा कार्यक्रम

पुल के उद्घाटन आज दोपहर 12.35 में किया जाएगा। सीएम नीतीश कुमार पुल का उद्घाटन करेंगे. वहीं इसके बाद नीतिन गडकरी पहुंच पथ का लोकार्पण करेंगे। मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। रंग-रोगन के साथ ही पुल को दुल्हन की तरह सजाया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले मुंगेर व भागलपुर को जोड़ने वाली घोर घट पुल का उद्घाटन करेंगे। जिसके लिए वहां पर हैलीपैड आदि का निर्माण किया गया है। इसके बाद मुख्यमंत्री सड़क मार्ग से मुंगेर स्थित पुल के दक्षिणी सिरे पर चंडिका स्थान के समीप पहुंचेंगे। पुल के समीप ही कार्यक्रम स्थल पर मंच, पंडाल आदि का निर्माण कराया गया है। वहां सेे इस पुल का लोकार्पण करने के बाद मुख्यमंत्री स्पेशल वाहन से सड़क पुल का अवलोकन करते हुए पुल के उत्तरी सिरे पर शालिग्रामी गांव के समीप पहुंचेंगे। जहां से पास में बने हैलीपैड से हेलीकाप्टर पर सवार होकर वापसी करेंगे।


Find Us on Facebook

Trending News