आज देश को मिलेगी तीसरी वंदे भारत ट्रेन, इन दो शहरों के बीच होगा परिचालन

आज देश को मिलेगी तीसरी वंदे भारत ट्रेन, इन दो शहरों के बीच होगा परिचालन

DESK :  भारतीय रेल सेवा में आज से तीसरी वंदे भारत एक्सप्रेस जुड़ने जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गुजरात की राजधानी गांधीनगर और मुंबई सेंट्रल के बीच स्वदेश निर्मित हाईस्पीड वंदे भारत एक्सप्रेस के नए और उन्नत संस्करण को हरी झंडी दिखाएंगे। 

2019 में चल चुकी है वंदे भारत ट्रेन

कुछ दिन पहले ही ट्रेन का इस रूट पर ट्रायल किया गया था, जो सफल रहा था, जिसके बाद इसके परिचालन को हरी झंडी दिखाने की तैयारी शुरू की गई। ज्ञात हो कि पहली वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को 15 फरवरी, 2019 को नई दिल्ली-कानपुर-इलाहाबाद-वाराणसी मार्ग पर हरी झंडी दिखाई गई थी। सरकार ने 'मेक इन इंडिया' अभियान को मजबूत करने की दिशा में महत्वपूर्ण प्रयास किए हैं। 

नई ट्रेन में ये है सुरक्षा पहलू

ट्रेन में बेहतर सुरक्षा के लिए वंदे भारत 2.0 ट्रेनों में कवच (ट्रेन कोलिजन अवॉइडेंस सिस्टम) की सुविधा दी गई है। इसके तहत हर कोच में चार इमरजेंसी विंडो जोड़े जाने से सुरक्षा में और सुधार होगा।  वहीं दो के बजाय कोच के बाहर रियरव्यू कैमरों सहित प्लेटफार्म की तरफ 4 कैमरे लगाए जाएंगे। ट्रेन के बेहतर नियंत्रण के लिए नए कोचों में लेवल-II सेफ्टी इंटीग्रेशन सर्टिफिकेशन है। वंदे भारत 2.0 में सभी विद्युत कक्षों और शौचालयों में एरोसोल आधारित आग का पता लगाने और उसे रोकने की प्रणाली के साथ बेहतर अग्नि सुरक्षा उपाय भी होंगे।

इमरजेंसी लाइटिंग की सुविधा

बाढ़ से बचाव के लिए वंदे भारत के कोचों में नीचे की तरफ झटकारने वाले बिजली उपकरणों के लिए एक बेहतर फ्लडप्रूफिंग व्‍यस्‍था स्थापित की गई है। इसके तहत ट्रेन में 400 मिमी की तुलना में 650 मिमी की ऊंचाई तक बाढ़ का सामना कर सकेंगे। ट्रेन में बिजली गुल होने की स्थिति में हर कोच में 4 इमरजेंसी लाइटिंग होगी।

इस साल की शुरुआत में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भी खजुराहो से वंदे भारत एक्सप्रेस के संचालन की घोषणा की थी। जल्द ही ये ट्रेनें पूरे देश में चलेंगी। 

Find Us on Facebook

Trending News