आज दिनभर की बिहार की सभी बड़ी खबरें....एक क्लिक में पढ़िए

आज दिनभर की बिहार की सभी बड़ी खबरें....एक क्लिक में पढ़िए

PATNA : हम आपके लिए ले कर आए हैं आज की बिहार की सभी प्रमुख खबरें एक साथ। आइए जानते हैं कि बुधवार को बिहार की कौन सी खबरें ने सुर्खियां बटोरी। एक क्लिक में पढ़िए...

बिहार में बच्चों की मौत पर पहली बार बोले पीएम मोदी- चमकी बुखार हमारी सबसे बड़ी विफलता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में पहली बार बिहार में बच्चों की मौत को लेकर बयान दिया है। पीएम मोदी ने कहा कि चमकी बुखार से बच्चों की मौत हम सबकी विफलता है। इस मसले पर राज्य सरकार के संपर्क में हूं, रास्ता निकलेगा। चमकी बुखार से मासूमों की हुई मौत हम सबकी नाकामी है। पीएम मोदी ने कहा कि बिहार के चमकी बुखार हमारी सबसे बड़ी विफलताएं में शामिल है। हम सबको इसको गंभीरता से लेना होगा। पूर्वी यूपी में अच्छी स्थिति नजर आ रही है पर बड़ा क्लेम नहीं कर सकते हैं। मुझे विश्वास है कि जो यह दुखद स्थिति है उससे जल्दी हम बाहर निकल जाएंगे। पीएम मोदी ने कहा कि मैं राज्य सरकार से संपर्क में हूं। मैंने तुरंत अपने हेल्थ मिनिस्टर को वहां दौड़ाया। जितना जल्दी हो सके इससे लोगों को निकालेंगे।उन्होंने कहा कि पोषण, टीकाकरण, आयुष्मान के जरिए लोगों को बाहर निकालने की कोशिश करेंगे। ऐसी समस्याओं से लोगों को बचाने के लिए काम करना होगा।


कच्चे मकान में रहने वाले मासूम हुए चमकी बुखार के शिकार, सरकार की रिपोर्ट में खुलासा...

बिहार में अबतक 269 से ज्यादा बच्चे चमकी बुखार के शिकार हो चुके हैं. इस मामले में बिहार सरकार के स्वास्थ विभाग की रिपोर्ट में चौकाने वाले तथ्य सामने आये है. जो बुखार आज तक सरकार और स्वास्थ विभाग के साथ साथ मेडिकल साइंस के लिए रहस्यमय बना हुआ है  उसमें बिहार सरकार ने नए तथ्य का खुलासा करते हुए कहा है कि चमकी बुखार से मरने वाले मासूम कच्चे मकानों में रहते थे, साथ ही सर्वे की रिपोर्ट में यह भी खुलासा हुआ है कि 30 फीसदी वैसे परिवार के बच्चो की मौत हुई है जिनके घर मे राशन कार्ड नही था.स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने कहा कि प्रारंभिक रिपोर्ट आ गयी है,विस्तृत रिपोर्ट की प्रतीक्षा है जिसके बाद कुछ और तथ्य सामने आ सकते है.


पटना पुलिस को मिली सफलतालूट के सामान के साथ तीन को किया गिरफ्तार

राजधानी पटना में बढ़ते अपराध को लेकर पटना पुलिस की काफी किरकिरी हो रही है. पुलिस अपराध पर नियंत्रण के लिए लगातार बैठकें कर रही है. अधिकारियों की ओर से कई दिशा-निर्देश भी जारी किया गया है. अठारह दिनों के भीतर मुख्यमंत्री लगातार दो बार कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर चुके हैं.इसके बावजूद अपराधी कई आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. इसी बीच पटना पुलिस को थोड़ी राहत मिली है. तीन लुटेरे आज पुलिस के हत्थे चढ़ गए. पीरबहोर थाने की पुलिस ने कार्रवाई करते हुए इस तीनों अपराधियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अपराधी पहले भी जेल की हवा खा चुके है.

गिरफ्तार अपराधियों में बहादूरपुर का जीतू कुमार उर्फ़ राज, मुसल्लहपुर हाट का सूरज कुमार और मुसल्लहपुर हाट का गुड्डू कुमार शामिल हैं. ये अपराधी बच्चों को डरा कर लूटपाट करते थे. इनसे पुलिस ने दो मोबाइल, पांच हज़ार रुपये और सोने का लॉकेट बरामद किया है. इनसे लूट में प्रयुक्त नकली हथियार भी बरामद किया गया है. साथ ही इन अपराधियों से लूट का सामान भी बरामद किया गया है.

नीतीश सरकार का नया फऱमानथानेदार बनने के लिए अब इन मानकों पर उतरना होगा खराजानिए कौन बन सकता है SHO

बिहार सरकार ने थानाध्यक्षों के लिए अहर्ता तय कर दिया है।गृह विभाग ने इस संबंध में अपना आदेश जारी कर दिया है।थानाध्यक्ष एवं अंचल पुलिस निरीक्षक पद पर पदस्थापन के लिए विशेष अहर्ता जरूरी है।सरकार ने अपने आदेश में कहा है कि यह आवश्यक है कि स्वच्छ सेवा वाले अधिकारी हीं इस पद पर पदस्थापित किए जायें।

जिन पदाधिकारियों के उपर निम्न आरोप लगे हों उन्हें इन दोनों पदों पर पदस्थापित नहीं किया जा सकता--यदि किसी थानाध्यक्ष के अंतर्गत शराब निर्माण,बिक्री,परिचालन,अथवा उपभोग में उसकी संलिप्तता की बात प्रकाश में आती है या क्षेत्र अंतर्गत मद्ध निषेध में उनके स्तर से कर्तव्यहीनता बरती जाती है तो उक्त पुलिस पदाधिकारी को अगले 10 सालों तक थानाध्यक्ष नहीं बनाया जाएगा।जिन्हें किसी कांड के अनुसंधान के दौरान पुलिस द्वारा अभियुक्त ठहराया गया हो।जिन्हें MORAL TURPITUDE के आरोप में विभागीय कार्यवाही में दोषी पाया गया हो यानि महिलाओं से अभद्र व्यवहार,भ्रष्टाचार और अभिरक्षा में हिंसा ।जिन्हे विभागीय कार्यवाही के संचालन के उपरांत 3 अथवा उससे अधिक वृहत सजा मिली हो।पदाधिकारी के विरूद्ध विभागीय कार्यवाही लंबित हो तो उसे थानाध्यक्ष नहीं बनाया जा सकता।जिन्हें किसी न्यायालय द्वारा दोषसिद्ध किया गया हो....ऐसे लोगों को अब बिहार के थाानों में थानाध्यक्ष की कुर्सी नहीं दी जाएगी।

AES से हो रही बच्चों की मौत और कानून-व्यवस्था को लेकर धरना पर बैठे पूर्व सीएम मांझी

देश में चमकी बुखार (AES) से बच्चों की हो रही मौत और बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर आज हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा की ओर से एकदिवसीय धरना का आयोजन किया गया।पटना के गर्दनीबाग स्थित धरनास्थल पर प्रदेश के पूर्व सीएम व हम प्रमुख जीतनराम मांझी धरना पर बैठे। उनके साथ पार्टी के कई नेता और बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।धरना पर बैठे मांझी ने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि प्रदेश में नीतीश सरकार हर मोर्चे पर विफल है। प्रदेश में चमकी बुखार से बच्चों के मौत का सिलसिला जारी है। अबतक सैकड़ो बच्चे काल के गाल में समा चुके है। वहीं बड़ी संख्या में बच्चे इस बीमारी से पीड़ित है। लेकिन सरकार अबतक इसकी रोकथाम के लिए कोई कारगकर कदम नहीं उठा सकी है।पूर्व सीएम ने कहा कि प्रदेश में अपराधियों का मनोबल चरम पर है। अन्य जिलों की बात तो छोड़िए राजधानी पटना में ही लोग सुरक्षित नहीं रह गए है। आए दिन लूट और हत्या की घटना आम बात हो गई है।

ये क्या बोल गए पप्पू यादव- बलात्कारियों को मारने वाले को एक लाख का इनाम

जन अधिकार पार्टी के सुप्रीमो और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया है। रेप पीड़ित परिवार से मुलाकात करने सीतामढ़ी आए पप्पू यादव ने कहा कि जो बलात्कारियों को मार देगा उसको वे एक लाख का इनाम देंगे।पप्पू यादव ने कहा कि अगर स्पीडी ट्रायल के तहत बलात्कारियों को फासी नहीं मिलती है तो उसे सजा देने का अधिकार समाज को है। बता दें कि सीतामढ़ी के कन्हौली में बीते हफ्ते दो सगी बहनों के साथ गैंग रेप की घटना हुई थी। पप्पू यादव ने बुधवार को पीड़ित परिवार से मुलाकात के दौरान हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया।

बिहार के सरकारी कर्मियों के लिए बड़ी खबर,सीएम नीतीश ने बिहार सरकारी सेवक शिकायत निवारण प्रणाली का किया शुभारंभ

बिहार के सरकारी कर्मियों के लिए एक बड़ी खबर है।राज्य सरकार ने सरकारी सेवकों की सुविधा के लिए बिहार सरकारी सेवक शिकायत निवारण प्रणाली की शुरूआत की है।बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस महत्वपूर्ण प्रणाली का शुभारंभ किया है।इस मौके पर डिप्टी सीएम सुशील मोदी,मुख्य सचिव के अलावे कई अधिकारी मौजूद थे। सीएम हाउस में आयोजित कार्यक्रम में सीएम नीतीश ने इसका उदघाटन किया।इसके शुरू होने से सरकारी सेवकों को कई फायदे होंगे। यह प्रणाली राज्य सरकार के सभी वर्ग के कर्मियों के लिए है।इसके तहत सेवारत कर्मियों एवं सेवानिवृत कर्मिय़ों के सेवांत लाभ से संबंधित शिकायत की जा सकती है।शिकायत के 60 दिनों के भीतर उन शिकायतों का निवारण होगा। इस प्रणाली में राज्य सरकार के सभी वर्ग के सेवारत एवं सेवानिवृत कर्मियों की नियुक्ति संबंधित मामले,सेवा संपुष्टि से संबंधित मामले,वेतन भुगतान,वरीयता निर्धारण,आकस्मिक छुट्टी के अलावे कई अन्य तरह की शिकायतें दर्ज करायी जा सकती हैं।.इसके लागू होने से सरकारी कर्मियों की शिकायत से संबधित सभी मामलों का समय रहते निष्पादन हो जाएगा।

  बाहुबली विधायक अनंत सिंह का आरोपविवेका पहलवान का भतीजा ने मचा रखा है लदमा में आतंकमौके से एके-47 का दो खोखा बरामद

मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह  के करीबी के घर पर फायरिंग हुई है।मौके से एक-47 का 2 खोखा बरामद किया गया है।घटना बाढ़ थाना क्षेत्र के अनंत सिंह के गांव लदमा की है जहां उनके एक करीबी के घर पर बीती रात फायरिंग हुई है।बताया जाता है कि रात में 5-6 लोग उसके घर पर आए और दरवाजा खुलवाया।जब उसने दरवाजा खोलने से इंकार किया तो फायरिंग कर चलते बने। पुलिस आज सुबह घटनास्थल पर पहुंची जहां से दो खोखा बरामद किया गया है। ।इस मामले में  अनंत सिंह के करीबी ने बाढ़ थाने में आवेदन दिया है।जिसमें अनंत सिंह के धूर विरोधी विवेका पहलवान और उसके भतीजा को आरोपित किया है।वहीं बाहुबली  विवेका पहलवान की तरफ से भी थाने में आवेदन दिया गया है । बाढ़ की एएसपी लिपि सिंह ने बताया कि लदमा गांव से 2 खोखा बरामद किया गया है।मामले में दोनों तरफ से आवेदन दिया गया है।पुलिस मामले की जांच कर रही है और स्थिति पर नजर रखे हुए है। न्यूज4नेशन से बातचीत में अनंत सिंह ने बताया कि विवेका पहलवान का भतीजा और उसके शागिर्दों के द्वारा लगातार हमारे करीबियों को टारगेट किया जा रहा है।पुलिस इस मामले को देखे और उस पर कार्रवाई करे।वहीं दूसरी तरफ विवेका पहलवान ने फोन पर न्यूज4नेशन से बातचीत में बताया कि उनके तरफ कोई फायरिंग  नहीं की गई है।

11 हजार वोल्ट की चपेट में आया बस3 की गई जान 2 दर्जन से अधिक गंभीर रुप से घायल

जिले में एक बड़ा हादस हुआ है। जहां 11 हजार वोल्ट बिजली की चपेट एक बस के आने से 3 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 2 दर्जन से अधिक लोग गंभीर रुप से घायल है। घटना जिले के कौआकोल थाना क्षेत्र के महुडर पंचायत की योगिया स्थान पर हुई है।घटना के संबंध में बताया गया है कि एक बस में तकरीबन 30-40 लोग झूम राजस्थान पूजा के लिए जमुई जा रहे थे। बताया जा रहा है कि एक ऑटो को बचाने के चक्कर में बस ने साइड लिया और उसी दौरान साइड में काफी नीचे लटके 11000 वोल्ट की तार की चपेट में आ गया।तार के बस में सटते ही पूरे बस में 11000 वोल्ट का करंट दौड़ने लगा और बस के का टायर में आग लग गई। बस के अंदर अफरा-तफरी मच गई। लोग जान बचाने के खिड़की तोड़कर अपनी जान बचाने की कोशिश करने लगे।इस घटना में जहां तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं बस में सवार तकरीबन 25-30 लोग गंभीर रुप से घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां 4 की हालत गंभीर बताई जा रही है।

बिहार के सभी जिलो के प्राथमिक-मध्य विद्यालयों की हो रही जांचनिदेशक ने 180 टीमों का किया है गठन

बिहार में एक बार फिर से सरकारी स्कूलों की औचक जांच की कार्रवाई शुरू हुई है। आज बिहार के सभी जिलों में करीब 180 टीम गठित कर सरकारी स्कूलों की औचक जांच करायी जा रही है। प्राथमिक शिक्षा के निदेशक ने मुख्यालय स्तर से हीं जांट टीम गटित कर संबंधित स्कूलों में भेजा है।जांच टीम में सभी जिलो के डीईओ और डीपीओ को रखा गया है।सभी अधिकारियों को निदेश दिया गया है कि स्कूल शुरू होने के 15 मिनट पहले हीं स्कूल पहुंच जाएं और 10 बिंदूओं पर जांच करें और शाम 6 बजे तक मुख्यालय को रिपोर्ट समिट करें। प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने सभी प्राईमरी और मध्य विद्यालय की जांच के लिए टीम गठित की है। आज जिन स्कूलों की जांच कार्य पूरा किया जाएगा उसमें शिक्षकों से लेकर छात्र की उपस्थिति मध्याहन भोजन से लेकर तमाम तरह की रिपोर्ट मुख्यालय को भेजना है।

Find Us on Facebook

Trending News