खतरे में टोक्यो ओलंपिकः खेलगांव पहुंचा कोरोना, कोविड के पहले केस की पुष्टि, वहीं ट्रेनिंग कैंप से गायब हुआ एथलीट

खतरे में टोक्यो ओलंपिकः खेलगांव पहुंचा कोरोना, कोविड के पहले केस की पुष्टि, वहीं ट्रेनिंग कैंप से गायब हुआ एथलीट

DESK: टोक्यो ओलंपिक साल 2020 में ही होना प्रस्तावित था, मगर जिस तरह से पूरा विश्व करोना महामारी की चपेट में था, इसे आगे बढ़ा दिया गया। अब जापान के निवासियों के कड़े विरोध के बावजूद 23 जुलाई से टोक्यो ओलंपिक की शुरुआत होना प्रस्तावित है। हालांकि ओलंपिक शुरू होने से पहले ही कई तरह की चुनौतियां सामने आ रही है। सबसे बड़ी चुनौती कोरोना महामारी की ही है, जो इतने कड़े नियम और प्रोटोकॉल के बावजूद ओलंपिक खेलगांव पहुंच ही गया।

टोक्यो 2020 के सीईओ तोशीरो मुटो ने कंफर्म किया है कि खेलों के आयोजन में शामिल विदेश से आया एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। उन्होंने गोपनीयता की वजह सेइस खिलाड़ी की राष्ट्रीयता का खुलासा नहीं किया। बता दें कि इस बार वैश्विक महामारी के कारण पिछले साल स्थगित हुए टोक्यो ओलंपिक 2020 ज्यादातर दर्शकों के बिना और कड़े क्वारंटाइन नियमों के तहत आयोजित किए जा रहे हैं। इसके बाद भी कोरोना ओलंपिक में शामिल हो ही गया और खिलाड़ियों सहित अधिकारियों को प्रभावित कर रहा है। इससे पहले आयोजकों नेगुरुवार को जानकारी दी थीकि जापान में एक एथलीट और पांच ओलंपिक वर्कर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। ये खबर ऐसे समय में आई, जब ब्राजील की ओलंपिक जूडो टीम की मेजबानी करने वाले होटल के 8 कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव निकलने की पुष्टि हुई। इसके अलावा रूस की रग्बी सेवन्स टीम के एक स्टाफ सदस्य के कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बता दें, कुछ दिनों पहले ही कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते जापान की राजधानी में टोक्यो में आपातकाल लागू कर दिया गया था। छह सप्ताह का यह आपातकाल 22 अगस्त तक लागू रहेगा। महामारी के शुरू होने के बाद यह चौथी बार है, जब टोक्यो में आपातकाल लागू किया गया है। आपातकाल के दौरान पार्क, संग्रहालय, थिएटर और अधिकांश दुकानें एवं रेस्तरां को रात 8 बजे बंद करने का अनुरोध किया गया है।


इसके अलावा एक और बड़ी खबर यहां से निकलकर सामने आई है। जापान के शहर ओसाका में मौजूद ट्रेनिंग कैंप से यूगांडा का 20 साल का एक एथलीट लापता हो गया है। आयोजकों के ऊपर आरोप लग रहे हैं कि वे कोरोना की तैयारियों में व्यस्त रहने के कारण एथलीटों पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। ओसाका के अधिकारियों ने सतर्क किया है कि युगांडा के भारोत्तोलक जूलियस सेकिटोलेको अपने होटल से लापता हो गए हैं। युगांडा ओलंपिक टीम में क्वालीफिकेशन स्थान से चूकने के बाद उन्हें 20 जुलाई को स्वदेश के लिए उड़ान भरनी थी। जापान में युगांडा ओलंपिक का एक एथलीट लापता हो गया है, और टीम का मेजबान शहर पुलिस के साथ तलाशी कर रहा है, जापान के शीर्ष सरकारी प्रवक्ता ने शुक्रवार को कहा। एनएचके का कहना है कि यह एक भारोत्तोलक है, और मेजबान शहर के एक अधिकारी ने देखा कि वह पीसीआर परीक्षण के दौरान गायब था। सूचना मिलने के बाद से खिलाड़ी की तलाश की जा रही है।

Find Us on Facebook

Trending News