बिहटा में त्राहिमाम: BJP नेता ने CM नीतीश से की मांग, क्राइम कंट्रोल के लिए विशेष पुलिस अफसर करें तैनात

बिहटा में त्राहिमाम: BJP नेता ने CM नीतीश से की मांग, क्राइम कंट्रोल के लिए विशेष पुलिस अफसर करें तैनात

पटना. भाजपा ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री सह बिहार भाजपा प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने पटना ग्रामीण जिला भाजपा के महामंत्री कौशल किशोर सिंह, भाजपा नेता मंटू पांडेय, ओमप्रकाश सिंह सहित अन्य लोगों के साथ बिहटा में किशुनपुर हत्याकांड के पीड़ित परिजनों से मुलाकात की. इस दौरान निखिल आनंद ने कहा कि किशुनपुर की यह घटना सामान्य हत्या की घटना नहीं है, बल्कि नरसंहार की तरह है. इस पूरी घटना के पीछे कोई मास्टरमाइंड है. जिसके इशारे वारदात को अंजाम दिया गया था. बता दें कि इस घटना में दो लगों की मौत हो गयी थी, जबकि एक गंभीर स्थिति में अस्पताल में इलाजरत है.

निखिल ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि इस घटना को अंजाम देने वाले और इसकी साजिश में शामिल लोगों का चेहरा बेनकाब हो. इसकी पुलिस-प्रशासन सख्ती से जांच करें और पीड़ितों को जल्द न्याय दिलाए. ऐसी घटनाएं समाज में घोर निंदनीय हैं. सभी पीड़ितों को जरूर न्याय मिले. बिहटा में विगत दिनों हुई एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना में किशुनपुर निवासी प्रदीप कुमार और राहुल कुमार की नृशंस हत्या कर दी गई जबकि अजित कुमार अस्पताल में गंभीर स्थिति में जीवन और मौत से जूझ रहे हैं. इस घटना के उपरांत पूरे किशुनपुर ही नहीं बिहटा के गाँव-समाज में शोकाकुल माहौल है.

निखिल आनंद ने बिहटा में अनवरत जारी आपराधिक घटनाओं पर नाराज़गी जाहिर करते हुए कहा कि बिहटा औद्योगिक और शिक्षण संस्थानों का हब बनने की ओर अग्रसर है, लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण है कि इनदिनों अपराध की घटनाओं के लिए सुर्खियों में है. उन्होंने कहा कि अगर यही हाल रहा तो वह दिन दूर नहीं जब बिहार सरकार को 'नक्सल प्रभावित क्षेत्र' की तरह कोई नया नाम ढूंढ़कर बिहटा को भी 'आपात स्थिति से ग्रस्त क्षेत्र' घोषित करना पड़ेगा. निखिल ने बिहटा में विशेष ऑफिसरों को मॉनिटरिंग के लिए नियुक्त करने और बिहटा थाने की स्थिति ज्यादा चुस्त दुरुस्त करने की माँग मुख्यमंत्री से की है.

Find Us on Facebook

Trending News