पॉपुलेशन पर पंगाः बीजेपी और जेडीयू आमने-सामने, CM नीतीश को घेरने में जुटी भाजपा...योगी मॉडल का लगा रहे जयकारा

पॉपुलेशन पर पंगाः बीजेपी और जेडीयू आमने-सामने, CM नीतीश को घेरने में जुटी भाजपा...योगी मॉडल का लगा रहे जयकारा

PATNA: जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर बिहार की सत्ताधारी बीजेपी-जेडीयू के बीच मतभेद खुलकर सामने आ गये हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साफ कर दिया है कि कानून से बढ़ती आबादी को नहीं रोक सकते। जनसंख्या पर नियंत्रण करना है तो महिलाओं को शिक्षित करना जरूरी है। मुख्यमंत्री ने तो यहां तक कह दिया कि कुछ राज्यों का अपना मत है, वे कानून बनाने की बात कर रहे। मुख्यमंत्री ने कहा है कि बिहार में जनसंख्या नियंत्रण कानून की जरूरत नहीं। शिक्षा वो हथियार है जिससे हम आबादी को रोक सकते हैं। मुख्यमंत्री के इस बयान के बाद सहयोगी बीजेपी नेताओं ने एक स्वर से जनसंख्या नियंत्रण के लिए योगी मॉडल अपनाने की मांग तेज कर दी है। पटना में तो केंद्रीय मंत्री ने यूपी सीएम योगी को जनसंख्या नियंत्रण को लेकर की गई पहल पर अग्रिम शुभकामना भी दे दी . 

आबादी पर आमने-सामने

 सोमवार को सीएम नीतीश ने जनता दरबार के समापन के बाद जनसंख्या नियंत्रण कानून पर खुल कर अपना विचार रखा था। उनके इस बयान के कुछ देर बाद ही डिप्टी सीएम रेणु देवी ने जनसंख्या नियंत्रण के लिए योगी मॉडल अपनाने की सलाद दे दी थी। हालांकि थोड़ी देर बाद वो बैकफुट पर आ गई और यूपी मॉडल वाला बयान वापस ले लिया .वहीं मंत्री सम्राट चौधरी ने भी जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कानून बनाने को लेकर अपनी स्थिति साफ कर दी। इसके बाद बिहार के सांसद और गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कह दिया कि जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कानून बनाने पर विस्तृत अवलोकन होना चाहिए। अवलोकन के बाद आगे का निर्णय लिया जाना चाहिए। 

नित्यानंद ने योगी मॉडल की सफलता को लेकर दी अग्रिम शुभकामना


मतलब साफ है इस बार बिहार बीजेपी के नेता भी राज्य में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कानून बनाने की मांग जोर-शोर से उठाने लगे हैं। अब तक बीजेपी कोटे के मंत्री जनसंख्या नियंत्रण कानून पर बोलने से बचते रहे थे। लेकिन इस बार तो जनसंख्या नियंत्रण कानून की बजाए शिक्षा को हथियार बनाये जाने के नीतीश कुमार के बयान के बाद बीजेपी नेता खुलकर सामने आ गये हैं। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि  जनसंख्या पर कई प्रकार के विचार आ रहे हैं. जनसंख्या नियंत्रण पर अवलोकन होना चाहिए। यूपी में जिस प्रकार से जनसंख्या को लेकर योगी जी सरकार काम कर रही है। योगी जी के काम में सफलता मिलेगी उनको अग्रिम शुभकामना। देश को यूपी की नीति से मदद मिलेगी। 

सम्राट चौधरी की खरी-खऱी

वहीं,पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि बिहार के नगर निकायों के चुनावों के लिए सरकार ने पहले ही यह नियम बना रखा है कि दो से अधिक बच्चे वाले लोग उम्मीदवार नहीं बन सकेंगे। अब यह व्यवस्था पंचायतों में लागू करने पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमने इसके लिए तैयारी शुरू कर दी है। हालांकि उन्होंने यह साफ कर दिया कि यह नियम बनाने के बाद भी इसे लागू करने में एक साल का समय लग जाएगा।उन्होंने कहा कि अब यह समय आ गया है कि इस तरह की व्यवस्था लागू होनी चाहिए।


Find Us on Facebook

Trending News